रंग बिरंगा होली , शैलेश ने जब है खेली “holi pe kavita hindi me” “होली पर कविता हिंदी में”#holi2020 #holiadvancestatus

0

holi pe kavita hindi me

होली पर कविता हिंदी में

होली का पर्व हम बड़े धूमधाम से मनाते है
जिसमें हम दुश्मन को भी गले लगाते है।
आओ हम आज खुशियां मनाये
एक दूसरे को रंग लगाए ।।

चुन्नू अपने पापा से पिचकारी मंगवाया
सब लोगो पर वह खूब रंग डाला ।
हो गए है सबके रंग बिरंगे गाल
हम दूसरों को रंग लगाके करदे लाल।।

यह प्यार का पर्व है सबसे निराला
खुश है सब एक दूसरे को रंग लगाके ।
सब मिलकर पकवान है खायें
आओ हम रंग लगाए ।।

आओ मिलकर हम होलिका जलायें
जिसमे जलायें हम अपने बुरे विचार ।
नफरत को छोड़कर हम प्रेम में डूब जायें
आओ हम रंग लगायें ll

भेदभाव को है दिल से मिटाना
बड़ो को सम्मान छोटो को प्यार दे ।
जाति मजहब को हम भूल जायें
आओ हम रंग लगायें ।।

Shailesh Yadav
Shailesh Yadav

Leave A Reply

Your email address will not be published.