‘बागी 3’ में कार, बाईक और तोप को लगे पंख

0

बागी 3‘ में कार, बाईक और तोप को लगे पंख

टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर, रितेश देशमुख जैसे कलाकारों और अहमद खान के निर्देशन में एक्शन से भरी फिल्म ‘बागी 3‘ इस शुक्रवार सिनेमाघरों में रिलीज हो चुकी है। इस फिल्म में बाइक, कार, तोप उड़ता हुआ नज़र आने वाला है।एक्शन से भरपूर इस फिल्म की कुछ खास बातें ।

बागी 3‘ फिल्म रिव्यू:

पुलिस ऑफिसर प्रताप सिंह (जैकी श्राफ) मरते-मरते अपने छोटे बेटे रॉनी (टाइगर) से वादा लेता है कि वो अपने बड़े भाई विक्रम (रितेश देशमुख) की ज़िंदगी भर रक्षा करेंगे। विक्रम सीधा-सादा लड़का रहता है और वहीं रॉनी एक जाबाज बहादुर आदमी रहता है। दोनों भाइयों में बचपन से ही बहुत प्यार रहता है। विक्रम के एक आवाज़ पर रॉनी आ जाता है और गुंडों कि हालत खराब कर देता है।

धमाकेदार बॉडी और मसल्स वाला रॉनी पर अपने भाई को बचाते-बचाते कई केस लग जाते हैं और वहीं विक्रम को पिता की जगह पर पुलिस की नौकरी मिल जाती है।
एक दिन अचानक विक्रम आतंकवादियों द्वारा किडनैप कर लिया जाता है। अपने भाई को बचाने की जद्दोजहद करता है और इस मिशन में उसकी गर्लफ्रेंड सिया (श्रद्धा कपूर) भी उसका साथ देती है।अपने भाई को आतंकवादियों के चंगुल से रॉनी बचाने में कामयाब होता है या नहीं इससे जानने के लिए आपको टिकट खिड़की तक जाना होगा।

‘बागी 3’ फिल्म रिव्यू:

वहीं अगर इस फिल्म की पटकथा की बात करें तो इस फिल्म की कहानी काफी कमजोर नजर आती है जो इस फिल्म की सबसे कमजोर कड़ी साबित होती दिखाई दे रही है। फिल्म ‘बागी 3’ में एक्शन और स्टंट सीन्स को गढ़ने में फिल्म के डायरेक्टर ने काफी कोशिश की है, जो काफी हद तक दिखाई भी देता है।

लेकिन इमोशनल और कॉमेडी सीन्स उतने प्रभावशाली नजर नहीं आते है। फिल्म में सिर्फ टाइगर श्रॉफ का ओवरडोज हो गया है। वहीं श्रद्धा कपूर को फिल्म में काफी कम स्क्रीन मिली मगर उन्होंने अपनी अदाकारी कि अच्छी छाप छोड़ी है।

वैसे तो फिल्म में रितेश देशमुख की भूमिका काफी अहम है, लेकिन उनके बच्चों जैसे बर्ताव फिल्म में हजम होता नहीं दिखाई देता है। आखिर क्यों उनको हमेशा प्रोटेक्ट करना पड़ता है।
लेकिन अगर आपको पर्दे पर एक्शन देखना पसंद है और स्टोरी लाइन से कोई ख़ास लेना-देना न हो, तो फिर यह फिल्म आपको जरूर देखनी चाहिए।

बागी 3 फिल्म रिव्यू:

फिल्मी तड़का

Baaghi 3 (बागी 3)

Leave A Reply

Your email address will not be published.