The ATI News
News Portal

गलवान घाटी में हिंसक झड़प, पांच चीनी सैनिक ढेर, तीन भारतीय जवान शहीद

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

गलवान घाटी में हिंसक झड़प, पांच चीनी सैनिक ढेर, तीन भारतीय जवान शहीद

 

Radha Singh | 16-06-2020

 

गलवान घाटी में हिंसक झड़प,
Photo Google

भारत और चीन के बीच लद्दाख की गलवान घाटी में जारी तनाव के बीच दगाबाजी के लिए मशहूर चीनी सेना ने भारतीय टुकड़ी पर अचानक गोलियों की बौछार कर दी। इस कायराना हमले में भारतीय सेना के एक अफसर समेत दो सैनिक शहीद हो गए। भारत की ओर से उसी समय मुंहतोड़ जवाब में पांच चीनी सैनिकों को ढेर कर दिया गया।

 

विधायक ललई यादव कोरोना पॉजिटिव, कुछ दिन पूर्व ही प्रेस कॉन्फ्रेंस और पारस नाथ यादव के अंत्येष्टि में शामिल हुए थे

 

यह घटना सोमवार रात घटी। ये घटना तब हुई जब सोमवार रात को गलवान घाटी के पास जब दोनों देशों के बीच बातचीत के बाद सबकुछ सामान्य होने की स्थिति बन रही थी। लेकिन चीन की ओर से एकबार फिर दगाबाजी सामने आई।

जानकारी के मुताबिक सिर्फ भारत की तरफ ही नहीं बल्कि चीन की तरफ भी कुछ सैनिकों को चोट आई है और 5 चीनी सैनिकों की मौत हुई है।

भारतीय सेना की ओर से जारी किए गए आधिकारिक बयान में बताया गया है कि गलवान घाटी में सोमवार की रात को डि-एस्केलेशन की प्रक्रिया के दौरान भारत और चीन के सैनिकों के बीच गोलीबारी हुई, इस दौरान भारतीय सेना के एक अफसर और दो जवान शहीद हो गए हैं, दोनों देशों के वरिष्ठ सैन्य अधिकारी इस वक्त इस मामले को शांत करने के लिए बड़ी बैठक कर रहे हैं।

 

सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड में नया खुलासा , सलमान खान ,साजिद नाडियाडवाला और अन्य ने बैन कर रखा था।

 

इस घटना के बाद चीनी विदेश मंत्रालय ने भी बयान जारी किया। बीजिंग ने उलटे भारत पर घुसपैठ का आरोप लगाया है। अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी एएफपी के मुताबिक, बीजिंग का आरोप है कि भारतीय सैनिकों ने सीमा पार करके चीनी सैनिकों पर हमला बोला था। चीनी विदेश मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि भारत ऐसी स्थिति में एकतरफा कार्रवाई ना करे।

 

जौनपुर : फीस और परीक्षा को लेकर उचित फैसला ले विश्वविद्यालय वरना अपने हक के लिए हम तोडे़गें लॉकडाउन : छात्रनेता हर्षित सिंह

गौरतलब है कि भारत और चीन के बीच मई महीने की शुरुआत से ही लद्दाख बॉर्डर के पास तनाव चल रहा है। चीनी सैनिकों ने भारत द्वारा तय की गई एलएसी को पार कर लिया था और पेंगोंग झील, गलवान घाटी के पर जा पहुंचे थे। इतना ही नहीं चीन की ओर से यहां पर करीब पांच हजार सैनिकों को तैनात किया गया।

 

 

देखिए आखिर कैसे दिखते थे मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ अपने जवानी के दिनों में

 

 

जब एक माँ ने अपने डेढ़ साल की बच्ची को फाँसी पर लटका दिया

Leave A Reply

Your email address will not be published.