The ATI News
News Portal

अपने बच्चे के ऑनलाइन पढ़ाई के लिए किसान ने क्या किया…जानिए इसपर अभिनेता सोनू सूद ने क्या कहा?

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

अपने बच्चे के ऑनलाइन पढ़ाई के लिए किसान ने क्या किया…जानिए इसपर अभिनेता सोनू सूद ने क्या कहा?

 

अंजलि पांडेय। 24/07/2020

 

 

अपने बच्चे के ऑनलाइन पढ़ाई के लिए किसान ने क्या किया.

 

हिमाचल प्रदेश का एक गरीब परिवार को बच्चे की ऑनलाइन पढ़ाई के लिए चाहिए था स्मार्टफोन,तो उस गरीब परिवार ने छह हजार रुपए में अपनी गाय बेच दी,जिसे की एक स्मार्ट फोन खरीदा जा सके,उन्होंने कई लोगों से उधार पैसे मांगे लेकिन उनके जानने वालों ने देने से मना कर दिया। इसके बाद उन्होंने बैंक का दरवाजा खटखटाया लेकिन वहां से भी उन्हें खाली हाथ लौटना पड़ा। कोरोना वायरस महामारी के चलते हर किसी को परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।

 

 

कोरोना के संक्रमण के चलते स्कूलों और कॉलेजों पर ताला लटका है। पढ़ाई के लिए ऑनलाइन क्लासेज का सहारा लिया जा रहा है। ऐसे में हर किसी के लिए संभव नहीं है कि परिवार का बच्चा ऑनलाइन क्लासेज के जरिए पढ़ाई जारी रख सके। कुलदीप कुमार कांगड़ा जिले के ज्वालामुखी तहसील के गुम्मर गांव में एक गौशाला में रहता है. उनकी बेटी अनु और बेटा वंश एक सरकारी स्कूल में क्रमश: कक्षा चौथी और दूसरी कक्षा में पढ़ते हैं. जैसा कि राज्यभर के स्कूलों ने महामारी के मद्देनजर ऑनलाइन कक्षाएं शुरू की हैं, ऐसे में उनके पास स्मार्टफोन और इंटरनेट न होने से बच्चे पढ़ नहीं सकते थे।

 

 

ऑनलाइन क्लाॅस के चलते शिक्षक डाल रहे थे दबाव

 

कुलदीप की आय का स्त्रोत सिर्फ ये गाय थी। वह उसका दूध बेचकर अपना घर चलाते थे वहीं उनकी पत्नी एक दिहाड़ी मजदूर है। गाय को बेचने से पहले कुलदीप ने स्मार्टफोन खरीदने के लिए बैंक में लोन लेने के लिए भी सोचा। मगर जब उसमें सफल नहीं हुए तो उन्हें मजबूरन स्मार्टफोन खरीदना पड़ा। कुलदीप ने बताया, ‘ऑनलाइन क्लाॅस के चलते शिक्षक हम पर दबाव डाल रहे थे कि यदि आप पढ़ाई जारी रखना चाहते हैं तो स्मार्टफोन खरीदना ही होगा। जैसे-तैसे एक फोन खरीद लिया मगर अब समस्या ये है कि दोनों बच्चों को पढ़ाई करनी है मगर फोन एक है, ऐसे में दोनों फोन के लिए झगड़ते हैं।’

 

सोनू सूद
Photo Google

 

वहीं अभिनेता सोनू सूद लॉक डाउन से लेकर अबतक कितने मजदूरों की मदद कर चुके हैं, जब उन्होंने यह खबर देखी तो अपने ट्विटर से उन्होंने ने ट्वीट किया कि,’आओ इस शख्स की गाय वापस लाते हैं, क्या कोई मुझे इस शख्स का डिटेल्स भेज सकता हैं’।

 

 

पायलट गुट के विधायक नहीं होंगे अयोग्य साबित, विधानसभा स्पीकर को हाईकोर्ट का झटका

 

 

आखिर कैसे हुई भगवान जगन्नाथ की सुप्रीम जीत

Leave A Reply

Your email address will not be published.