The ATI News
News Portal

‘मन की बात’ में बोले मोदी- पीठ में छुरा भोंकना चाहता था पाक, जवानों ने किया था नाकाम

2

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

‘मन की बात’ में बोले मोदी- पीठ में छुरा भोंकना चाहता था पाक, जवानों ने किया था नाकाम

 

राधा सिंह | 26 -07-2020

 

मन की बात में बोले मोदी

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करगिल विजय दिवस पर देश के सैनिकों की बहादुरी को सलाम किया। पीएम ने ‘मन की बात’ कार्यक्रम में कहा कि करगिल युद्ध में हालांकि उस वक्त भारत पाकिस्तान से मित्रता चाहता था, लेकिन पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर करगिल युद्ध का दुस्साहस किया था। पीएम मोदी ने कहा कि इस युद्ध में भारत के सच्चे पराक्रम की जीत हुई और पाकिस्तान को मुंह की खानी पड़ी।

 

 

85 साल की ‘लठैत दादी’ ने मचाया तहलका, लाठी भांजते ये वीडियो देखकर दंग रह जाएंगे… 

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि करगिल का युद्ध जिन परिस्थितियों में हुआ वो भारत कभी भूल नहीं सकता है। पाकिस्तान ने बड़े-बड़े मंसूबे पालकर भारत की भूमि हथियाने और अपने यहां चल रहे आंतरिक कलह से ध्यान भटकाने के लिए दुस्साहस किया था।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि दुष्ट का स्वभाव ही होता है हर किसी से बिना वजह दुश्मनी लेना, पाकिस्तान ऐसा ही कर रहा था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि ऐसे स्वभाव के लोग जो हित करता है उसका भी नुकसान ही पहुंचाते हैं।

 

रोहिंग्या मुसलमानों ने भारतीय नागरिकता को लेकर, रची ये साजिश…

 

इसलिए भारत की मित्रता की जवाब में पाकिस्तान ने पीठ में छुरा घोंपने की कोशिश की थी। लेकिन इसके बाद भारत ने जो पराक्रम दिखाया वो पूरी दुनिया ने देखा। प्रधानमंत्री कहा कि उस समय उन्हें करगिल जाने और वीर जवानों के दर्शन का सौभाग्य मिला था। पीएम ने कहा कि ये पल उनके जीवन के अनमोल क्षणों में से हैं।

 

 

बॉलीवुड डांसर्स के लिए इस बार आगे आए ऋतिक रोशन, 100 डांसर्स के खातों में दिए पैसे…

 

मन की बात कार्यक्रम में पीएम मोदी ने तत्कालीन प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी द्वारा लालकिले से दिए गए संदेश को याद किया। पीएम मोदी ने कहा कि अटल जी ने कहा था कि करगिल युद्ध ने हमें एक मंत्र दिया है, ये मंत्र था कि कोई महत्वपूर्ण निर्णय लेने से पहले हम ये सोचें कि क्या हमारा ये कदम उस सैनिक के सम्मान के अनुरूप है जिसने उन दुर्गम पहाड़ियों में अपने प्राणों की आहुति दी थी।

 

सुशांत सिंह राजपूत की आखरी फ़िल्म “दिल बेचारा” का क्रेज इतना जबरदस्त की क्रैश हो गया “हॉटस्टार”

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस संक्रमण के दौर में देशवासियों के संयम की सराहना की। पीएम ने कहा कि मास्क पहनने में कई बार परेशानी होती है। जब हमें बोलना होता है तो हम मास्क हटा लेते हैं, लेकिन मास्क हटाने से पहले डॉक्टरों और नर्सों को याद करें जो घंटों तक मास्क पहने रहते हैं।

 

श्री राम मंदिर भूमि पूजन: 500 साल के संघर्षों के बाद आया है यह है शुभ मुहूर्त -योगी आदित्य नाथ

 

बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने इससे पहले 28 जून को ‘मन की बात’ के माध्यम से देश को संबोधित किया था. इस दौरान पीएम ने कई अहम मुद्दों पर अपने विचार जनता के साथ साझा किए थे, जिसमें चीनी घुसपैठ, लॉकडाउन और कोरोना जैसे मुद्दे शामिल थे। अब देश में कोरोना के मामले में बढ़ोतरी हुई है तो एक बार फिर कयास लगाए जा रहे हैं कि इसमें पीएम मोदी जनता से दोबारा इस महामारी से बचने के उपाय साझा कर सकते हैं।

 

आखिर कैसे हुई भगवान जगन्नाथ की सुप्रीम जीत

2 Comments
  1. […] ‘मन की बात’ में बोले मोदी- पीठ में छुरा … […]

  2. […] ‘मन की बात’ में बोले मोदी- पीठ में छुरा … […]

Leave A Reply

Your email address will not be published.