The ATI News
News Portal

लेबनान में हुए भयंकर विस्फोट के बाद पीएम समेत पूरी सरकार स्तीफा देने को हुई मजबूर

5

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

लेबनान में हुए भयंकर विस्फोट के बाद पीएम समेत पूरी सरकार स्तीफा देने को हुई मजबूर

Pc: Google

 

 

 

 

 

 

लेबनान के बेरूत में पिछले हफ्ते हुए भयंकर विस्फोट के बाद लेबनान सरकार की व्यवस्था पूरे तरीके से चरमरा गई है।सरकार में मंत्रियों के स्तीफे की होड़ मच गई है। इस भयंकर घटना को लेकर देश में इस कदर आक्रोश है कि पूरी सरकार ही इस्तीफा देने पर मजबूर हो चुकी है। देश के प्रधानमंत्री हसन दिआब जल्द ही इसका ऐलान कर सकते है हैं।

150 से ज्यादा लोगों की जान लेने वाले धमाके की जांच में धीरे-धीरे सरकारी महकमे की लापरवाही और सरकार की अयोग्यता को लेकर सवाल उठने लगे तो एक-एक कर मंत्रियों ने इस्तीफा देना शुरू कर दिया था।

इस भयंकर विस्फोट के बाद देश में सरकार के खिलाफ आक्रामक प्रदर्शन चल रहे हैं जिन्होंने हिंसक रूप ले लिया है। सरकार के एक सूत्र के मुताबिक सोमवार रात तक सरकार ‘सिर्फ केयरटेकर’ की भूमिका में आ जएगी। कैबिनेट के 3 मंत्री पहले ही इस्तीफा दे चुके हैं और संसद के 7 सदस्यों ने भी पद छोड़ दिया है। देश के स्वास्थ्य मंत्री ने इस बारे में जानकारी दी है कि सभी मंत्रियों ने इस्तीफा दे दिया है सोमवार को पीएम इस कदम का ऐलान करने वाले हैं। वह राष्ट्रपति को सबका इस्तीफा सौंपने वाले हैं।

आर्थिक स्थिति हुई ध्वस्त

ऐसे में पहले से ही आर्थिक संकट से जूझ रहे लेबनान में कोरोना ने केहर मचाना शुरू कर दिया था। इसी बीच इस भयंकर विस्फोटक त्रासदी ने लेबनान के आर्थिक दशा को पूरे तरीके से ध्वस्त कर दिया है। वहीं, सरकार के खिलाफ लचर रवैये और भ्रष्टाचार के आरोप लग रहे थे। राजधानी बेरूत में हुए धमाकों के बाद लोगों का गुस्सा फूट पड़ा। जांच में यह बात सामने आ रही है कि कई साल से वह विस्फोटक केमिकल, अमोनियम नाइट्रेट, बंदरगाह पर पड़ा था और कई चेतावनी जारी किए जाने के बावजूद इसकी अनदेखी की गई।

 

यह भी पढ़ें;

पूरे देश में योगी का जलवा, योगी आदित्यनाथ बने सीएम नंबर-1

दनिया का सबसे ऊंचा मंदिर “बृहदेश्वर मन्दिर” 

चीनी सेना ने पाक सेना को रगड़कर पीटा , पाक अधिकारियों ने भी किए हाथ साफ

5 Comments
  1. […] लेबनान में हुए भयंकर विस्फोट के बाद पी… […]

Leave A Reply

Your email address will not be published.