The ATI News
News Portal

उर्वरक की कालाबाजारी के मामले में आजमगढ़ में 14 लोगों पर एफआईआर,रासुका के तहत हो सकती है कार्यवाही

1

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

उर्वरक की कालाबाजारी के मामले में आजमगढ़ में 14 लोगों पर एफआईआर,रासुका के तहत हो सकती है कार्यवाही

 

शुभेन्द्र धर द्विवेदी | 27/08/2020

 

बंदी में दुकान खोलना पड़ा भारी पुलिस ने दिखाई सख्ती, आठ का किया चालान

आजमगढ़ जिले में लगातार हो रहे उर्वरक की कमी के चलते जिलाधिकारी के आदेश द्वारा जांच प्रक्रिया शुरू की गई जिसमें उर्वरक के 20 बड़े खरीदारों की सूची बना ऊंची जांच की गई जिसके बाद जिले में 8 हजार बोरी से अधिक यूरिया की कालाबाजारी के मामले सामने आए है। जिसके बाद बुधवार को 14 लोगों के खिलाफ विभिन्न थानों में एफआईआर कराई गई। इसमें एआर कोआपरेटिव ने 11 और जिला कृषि अधिकारी ने 3 लोगों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।

 

 

 

एडीएम प्रशासन ने बताया कि मुख्यमंत्री के आदेश के अनुपालन में रासुका की भी कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उर्वरकों की ब्रिकी अब संबंधित एसडीएम की देखरेख में सुनिश्चित होगी।जांच के लिए जिला कृषि अधिकारी, सहायक आयुक्त व सहायक निबंधक सहकारी समितियां, जिला गन्ना अधिकारी और भूमि संरक्षण अधिकारी ऊसर सुधार की टीम बनाई थी। जांच में पाया गया आठ क्रेताओं ने हजारों बोरी यूरिया की खरीद की है।

 

 

 

 

अपर जिलाधिकारी नरेन्द्र सिंह ने बताया कि जिले में उर्वरक की कालाबारी की पुष्टि होने पर तीन समितियों के सचिव, तीन निजी उर्वरक  विक्रेता और आठ किसानों के खिलाफ एफआइआर दर्ज कराई गई है। उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा जाएगा। यदि जेल से निकलने के बाद फिर कालाबाजारी की कोशिश की जाती है तो रासूका के तहत भी कार्यवाही की जा सकती है।

 

 

 

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.