The ATI News
News Portal

मुख्तार अंसारी के बेटों की अवैध इमारतें ध्वस्त, जानिये क्या क्या हुआ…

4

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

मुख्तार अंसारी के बेटों की अवैध इमारतें ध्वस्त, जानिये क्या क्या हुआ…

 

सुदर्शन सिंह। 27/08/2020

 

मुख्तार अंसारी के बेटों की अवैध इमारतें ध्वस्त, जानिये क्या क्या हुआ...
Photo Google

 

पूर्वांचल की मऊ सदर विधानसभा सीट से विधायक मुख्तार अंसारी के खिलाफ लखनऊ प्राधिकरण (एलडीए) ने बड़ी कार्यवाही की। लखनऊ के डालीबाग में बने अवैध मकान को तोड़कर जमींदोज़ कर दिया है। लखनऊ विकास प्राधिकरण प्रशासन और पुलिस टीम ने गुरुवार की सुबह डालीबाग कालोनी में मुख्तार अंसारी के अवैध कब्जे वाली दो मंजिला के दो मकान गिराना सुरु कर दिया ये दोनों मकान इनके बेटों के नाम दर्ज है। डीएल द्वारा 11 अगस्त को ही मकान गिराने का आदेश दे दिया था।

 

 

 

विधायक मुख्तार अंसारी के अवैध कब्जे के मकान को गिराने के लिए पुलिस और प्रशासन की टीम डालीबाग स्तिथ अवैध कब्जे वाली मकान पर भारी पुलिस बल और जेसीबी के साथ पहुंची। इस दौरान गेट का टाला तोड़ कर मकान से सारा सामान निकाल कर एलडीए की टीम के मौजूदगी में पुलिस ने कार्यवाही की। मुख्तार के बेनामी संपत्ति की जांच में जुटे अफसर ने मुख्तार के परिवारजनों को रडार पर लिया है।

 

 

 

 

मुख्तार के हजरतगंज व उससे जुड़े हुवे इलाकों के 19 सम्पत्तियों में अब मुख्तार को खंगाला जा रहा है इनमें से 12 सम्पत्तियाँ हजरतगंज – रामतीर्थ वार्ड और 9 सम्पत्तियाँ राजाराम मोहन राय वार्ड में है। इसके लिए एलडीए और 250 से भी अधिक पुलिस प्रशासन और काम से काम 20 से अधिक जेसीबी लगी है। मौके पर मुख्तार अंसारी के दोनों बेटे अब्बास व उमर अंसारी के टावर पर झड़प भी हो गई, जिसके बाद पुलिस ने उन्हें खदेड़ कर भगा दिया।

 

 

 

जानिए कहां छिपा  है अरबों  के खजाने का राज जहां मौजूद है 30 टन सोना

 

 

 

एलडीए सयुंक्त सचिव ऋतू सुहास ने 11 अगस्त को शस्त्रीकरण आदेश जारी किया था। एलडीए की सयुंक्त सचिव ऋतू सुहास ने बताया की नगर विकास अधिनियम की धारा 27 के तहत कार्यवाही की गई है। गौरतलब है की मुख्तार माफिया के खिलाफ एक्शन के क्रम में पिछले महीने एलडीए लालबाग में मुख्तार अंसारी से जुड़े एक अवैध निर्माड का बेसमेंट को सील कर दिया था।

Leave A Reply

Your email address will not be published.