The ATI News
News Portal

मास्क पहनकर सांस लेने से फेफड़े-इम्यूनिटी पर बुरा असर, बचाव का सिर्फ एक तरीका

1

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

मास्क पहनकर सांस लेने से फेफड़े-इम्यूनिटी पर बुरा असर, बचाव का सिर्फ एक तरीका

 

ATI . 21/09/2020

 

मास्क पहनकर सांस लेने से फेफड़े-इम्यूनिटी पर बुरा असर, बचाव का सिर्फ एक तरीका

 

लगातार मास्क पहने रखना हमारे फेफड़ों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. ‘योगा एंड वेलनेस कोच’ अनुराधा गुप्ता कहना है कि लगातार मास्क पहनकर सांस लेने से हमारी फेफड़ों और इम्यूनिटी पर काफी बुरा असर पड़ता है.मास्क के अंदर सांस लेने से फेफड़ों और इम्यूनिटी पर बुरा असर

 

मास्क के अंदर क्यों फेफड़ों को नहीं मिलता पर्याप्त ऑक्सीजन?

कोरोना वायरस (Corona virus) के संक्रमण से बचने के लिए मास्क पहनना बहुत जरूरी हो गया है. अपनी और दूसरों की सुरक्षा के लिए जरूर पहनें. लेकिन क्या आप जानते हैं लगातार मास्क पहने रखना हमारे फेफड़ों के लिए कितना खतरनाक साबित हो सकता है. ‘योगा एंड वेलनेस कोच’ अनुराधा गुप्ता का कहना है कि मास्क (Mask) पहनकर सांस लेने से हमारे फेफड़ों, वायटैलिटी और इम्यूनिटी (Immunity) पर काफी बुरा असर पड़ता है.

 

 

 

फिटनेस एक्सपर्ट का कहना है कि लगातार मास्क पहनने वालों को ऐसी दिक्कतों से बचने के लिए प्राणायाम या डीप ब्रीदिंग एक्सरसाइज (Pranayam and deep breathing exercise) नियमित रूप से करनी चाहिए. इससे ना सिर्फ आपके फेफड़े और इम्यूनिट अच्छी होगी, बल्कि आप ज्यादा ऊर्जावान और स्वस्थ महसूस करेंगे.

 

 

 

दुनिया का सबसे ऊंचा मंदिर “बृहदेश्वर मन्दिर”

 

 

फिटनेस और योगा एक्सपर्ट ने बताया कि अपनी ही सांस को छोड़ने के बाद इनहेल करने की प्रक्रिया को योग और आयुर्वेद में अपान वायु कहते हैं. अपान वायु में ऑक्सीजन की मात्रा कम होती है, जिसका बुरा असर आपकी पूरी सेहत पर पड़ता है. इससे निजात पाने के लिए उन्होंने बेहद आसान एक्सरसाइज भी बताए हैं.

Leave A Reply

Your email address will not be published.