The ATI News
News Portal

बीस दिनों तक माँ की लाश को सड़ता हुआ रखकर मासूम बच्चों की भावनाओं से खिलवाड़ करता रहा पुजारी

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

तमिलनाडु। सुनने वाले हर व्यक्ति को हैरान कर देने वाला यह मामला तमिलनाडु के डिंडीगुल गाँव का है जहाँ एक पुजारी ने चंद पैसों की लालच में आकर छोटे बच्चों की भावनाओं की भी धज्जिया उड़ा दी। बताया जा रहा है कि ‌घटनास्थल के कुछ दूरी पर ही स्थित एक मंदिर में रहने वाले सुदर्शन नाम के पुजारी ने इंसानियत को बुरी तरह शर्मसार कर दिया। हद तो तब पार हो गई जब उसने मासूम छोटे बच्चों को भी अपनी इस घिनौनी हरकत का शिकार बना डाला। आपको बता दें कि डिंडीगुल के महिला थाना में हेड कांस्टेबल के पद पर काम करने वाली इंदिरा ‌नाम की एक महिला गुर्दे की बिमारी से लंबे समय से परेशान थी। वह अपने 13 साल के बेटे और 9 साल की बेटी के साथ घर वालों से अलग होकर एक किराए के मकान में रहती थी।

अपनी बिमारी से तंग आकर उसने स्वैच्छिक रिटायरमेंट की भी अपील कर रखी थी। परंतु कोई भी उचित प्रतिक्रिया न होने के कारण उसने बहुत दिनों से अॉफ़िस जाना बंद कर दिया था। इसी बिमारी के चलते पिछले 20 दिन पहले ही उसने अपने किराए के रूम में दम तोड़ दिया जहाँ केवल उसके दो छोटे बच्चे और 3 दिन पहले आई उनकी मौसी ही मौजूद थी। इंदिरा की बिगड़ती स्थिति देखकर उसकी बहन ने घबराकर पुजारी सुदर्शन को वहाँ पर बुला लिया और महिला के दम तोड़ देने के बावजूद भी उसने बच्चों व उनकी मौसी को अपने झाँसे में फँसा लिया और कहने लगा कि उन्हें अस्पताल न लेकर जाए वरना भगवान उससे नाराज़ हो जाएँगे।

आगे उसने बताया कि वह एक ऐसी विधि जानता है जिससे उनकी माँ की आत्मा वापस लौट आएगी लेकिन इस बात की ख़बर बाहर किसी को भी न होने पाए। अपने मन मुताबिक पैसे लेकर पुजारी ने लाश को रखकर ढोंग दिखाना शुरू कर दिया और सबको अपने जाल में फँसा लिया। बहुत दिनों तक ड्यूटी पर न जाने के कारण एक महिला कांस्टेबल इंदिरा के घर पर आ गई और बच्चों से पूछने लगी कि उनकी माँ कहाँ है तो उन्होंने कहा कि उनकी तबियत ठीक नहीं है इसलिए वह बस सो रही हैं, आप प्लीज़ उन्हें परेशान मत करिए ।

तभी अचानक घर से बहुत ही गंदी बदबू आने के कारण महिला कांस्टेबल को शक होने लगा और उसने थाने पर इसकी ख़बर की। जाँच पड़ताल के बाद पता लगा कि इंदिरा की मौत पिछले 20 दिन पहले ही हो चुकी थी लेकिन पुजारी ने सबको बेवकूफ़ बना कर उसकी आत्मा वापस लाने का ढोंग रच रखा था। मौके पर उपस्थित पुलिस ने पुजारी समेत इंदिरा की बहन को भी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.