मनचले ने‌ शादीशुदा महिला का जीना किया हराम, फेसबुक पर सीएम को शिकायती पोस्ट लिखकर लगा ली फाँसी

0

उत्तर प्रदेश। यूपी (UP) के जिला हरदोई (Hardoi) के माधौगंज (Madhauganj) कस्बे से हैरान कर देने वाला एक ऐसा मामला सामने आया है जिसको सुनकर हर किसी ने अपने दाँतों तले उँगली दबा ली। दरअसल, माधौगंज निवासी महिला रोली गुप्ता ने फेसबुक (Facebook) पर सोमवार को एक पोस्ट लिखा जिसमें किसी मनबढ़ लवी नाम के युवक द्वारा उसे बुरी तरह से तंग करने की बात कही और फिर फाँसी लगाकर आत्महत्या (suicide) कर ली।

UP चुनाव: महंगाई पर महिलाओं का गुस्सा फूटा, मोदी-योगी को लेकर बड़ी बात कह दी

इसके साथ ही उसने मुख्यमंत्री (Chief Minister) से अपने साथ हुए गलत व्यवहार के बारे में बताया और हाथ जोड़कर कहा कि मुझे सिर्फ़ न्याय (justice) दिला दीजिए। महिला ने माधौगंज पुलिस पर भी लापरवाही बरतने के आरोप लगाए हैं। एसपी अजय कुमार (SP Ajay Kumar) ने बताया कि घटना से पूर्व महिला की तहरीर पर केस दर्ज (case file) किया गया था। पुलिस (police) पर जो आरोप लगाए गए हैं, उनकी जाँच (investigation) करवाई जा रही है।

उन्होंने बताया कि मुख्य आरोपी को गिरफ़्तार (arrest) भी कर लिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है। मृतका रोली गुप्ता के पति मनोज गुप्ता ने बताया कि लवी की हरकतों से त्रस्त होकर उन्होंने अपना मकान छोड़कर किदवई नगर मोहल्ले (Kidvai Nagar colony) में किराए का मकान लिया था। पत्नी और बच्चों के साथ वह वहीं रहने लगा था। उसने बताया कि शनिवार के दिन वह मकान से अपनी दुकान के लिए निकला था, उसी दौरान लवी उसके घर में घुसा और 50 हज़ार की नकदी (cash) व मोबाइल (Mobile) उठा लिया।

इसका जब उसकी पत्नी रोली गुप्ता ने विरोध किया तो लवी ने रोली गुप्ता को स्टेशन (station) बुलाया। रोली गुप्ता अपने तीनों बच्चों के साथ लवी के पास स्टेशन जा ही रही थी कि तभी रास्ते में बैठे लवी ने रोली गुप्ता को मारना शुरू कर दिया। लवी ने रोली गुप्ता की मुँह से नाक काट ली। जिसके बाद रोली गुप्ता बेसुध होकर मौके पर ही बेहोश हो गई। मामले की ख़बर जब पति को लगी तो वह मौके पर पहुँचा और मामले की शिकायत (complaint) करने के लिए थाने (police station) पर गया। जहाँ पर उसने पुलिस को पूरा वाकया बताया और पुलिस ने तहरीर देने की बात कही। मृतक के पति ने बताया कि पुलिस ने उनकी तहरीर नहीं ली और अपने मुताबिक तहरीर लिखवाई जिससे वह काफ़ी नाराज़ भी हो गए।

लवी के ऊपर पुलिस द्वारा कोई कार्रवाई न होते देख रोली ने न्याय के लिए मुख्यमंत्री के लिए फेसबुक पर पोस्ट लिखी। फेसबुक पोस्ट पर लिखा कि “माननीय योगी आदित्यनाथ जी मेरा आपसे हाथ जोड़कर विनम्र निवेदन है कि मेरे साथ न्याय किया जाए।” इसके बाद रोली ने पूरी घटना का ज़िक्र किया और फिर फाँसी लगाकर आत्महत्या कर ली। परिजनों ने घटना की सूचना पुलिस को दी तो मौके पर पहुँचकर पुलिस ने शव को पोस्टमॉर्टम (autopsy) के लिए क़ब्जे (possession) में ले लिया। आगे मामले पर पुलिस का कहना है कि जो भी पुलिसकर्मी इसमें आरोपी पाया जाएगा उसके ख़िलाफ़ सख़्त से सख़्त कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही पुलिस ने मुख्य आरोपी (charged) लवी को भी हिरासत में ले लिया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.