ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

मात्र 499 रुपए में समाजवादी पार्टी ने बाँटे गैस सिलेंडर, नया रहा विधानसभा चुनाव के लिए जनता को प्रलोभन देने का तरीका

0

उत्तर प्रदेश। यूपी (UP) के अयोध्या (Ayodhya) में समाजवादी पार्टी (Samajvadi Party) विधानसभा चुनाव (Assembly elections) की तैयारियों में जोरों-शोरों से जुट गई है और जनता को लुभाने के नए-नए पैंतरे भी अपना रही है। कुछ ऐसा ही देखने अलग दिखने वाला आयोजन किया गया अयोध्या (Ayodhya) में जहाँ बढ़ती महँगाई (inflation) को लेकर समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के दिव्यांग नेता पंडित समरजीत ने ग्रामीण महिलाओं में ‘समाजवादी’ गैस सिलेंडर (Samajwadi Gas Cylinder) मात्र 499 रुपए में वितरित किया।‌

यू-ट्यूबर कैरीमिनाटी पर केस क्यों दर्ज हो गया?

दिव्यांग सपा नेता ने यह वितरण (Delivery) मवई के बाबूपुर गाँव में किया। यही नहीं ‘समाजवादी’ गैस सिलेंडर (Gas Cylinder) के स्टिकर पर समाजवादी पार्टी की प्रमुख 3 घोषणाओं (announcements) का भी ज़िक्र किया गया है। जिसमें 20 लाख युवाओं को रोज़गार (employment), हर घर में 300 यूनिट बिजली फ़्री व एक करोड़ महिलाओं को 1500 रुपए समाजवादी पेंशन (Samajvadi pension) देने का ज़िक्र भी किया गया है।

छत्तीसगढ़ के सीएम भूपेश बघेल के पिता की इस तस्वीर पर लोग पुलिस से सख्त सवाल पूछ रहे हैं

इस बारे में दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ने बताया कि महँगाई इतनी बढ़ गई है कि गरीबों की थाली से भोजन गायब हो रहा है, इसीलिए ग्रामीण महिलाओं में 499 रुपए में गैस सिलेंडर वितरित किया गया है। क्योंकि इस समय गैस सिलेंडर 945 रुपए में बाज़ार में बिक रहा है और इससे गरीबों को‌ बहुत ही दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

इतना ही नहीं, सिलेंडर के स्टीकर पर मुलायम सिंह यादव (Mulayam Singh Yadav), पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Former Chief Minister Akhilesh Yadav) व उनकी पत्नी डिंपल यादव (Dimple Yadav) की फ़ोटो भी लगाई गई है। आप तस्वीरों में देख सकते हैं कि किस तरह से दिव्यांग सपा नेता पंडित समरजीत ग्रामीणों में गैस सिलेंडर वितरित कर रहे हैं या यूँ कहें कि सपा के खाते में वोट (vote) बटोरने की नई नीति अपनाई गई है।

‘कपिल शर्मा शो’ की शूटिंग के बाद सेट पर एक्टर्स जो करते हैं उसका वीडियो आया है

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

Leave A Reply

Your email address will not be published.