भारतीय जनता पार्टी के नेता की गिरफ़्तारी के लिए आई पश्चिम बंगाल पुलिस की हुई जमकर पिटाई

0

अलीगढ़। यूपी ‌(UP) के जिला अलीगढ़ (Aligarh) में भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janata Party, BJP) के एक नेता (leader) की गिरफ़्तारी (arrest) के सिलसिले (sequence) में आई पश्चिम बंगाल (West Bengal) की पुलिस (police) की पिटाई का मामला (matter) सामने आया है। दरअसल, पश्चिम बंगाल में चार साल पहले हिंदू संगठन (Hindu organization) के कार्यकर्ताओं (workers) पर लाठीचार्ज (lathi charge) के बाद बीजेपी नेता योगेश वार्ष्णेय (BJP leader Yogesh Varshney) ने सीएम ममता बनर्जी (CM Mamata Banerjee) का सिर काटकर लाने वाले को 11 लाख का इनाम (price) देने का ऐलान (announcement) किया था।

योगी सरकार ने बढ़ाई डॉक्टरों के रिटायरमेंट की उम्र, अब 70 में होंगे रिटायर

उसी केस (case) में बंगाल पुलिस (Bengal Police) यहाँ आई हुई थी। देर रात तक चले हंगामे (uproar) के बाद स्थानीय पुलिस (local police) ने किसी तरह मामला शांत (case calm) कराया। यह मामला बीजेपी नेता (BJP leader) और युवा मोर्चा (Youth Front) के पूर्व मंडल अध्यक्ष योगेश वार्ष्णेय से जुड़ा हुआ है। पश्चिम बंगाल सीआईडी (CID) के सब इंस्पेक्टर शुभाशीष (Sub Inspector Shubhashees) और सिपाही आलमगीर (Sepoy Alamgir) गिरफ़्तारी और कुर्की संबंधी नोटिस (attachment notice) लेकर अलीगढ़ पहुँचे थे।

टीम इंडिया का कोच बनने की रेस में ये कौन आगे आ गया?

ममता बनर्जी का सिर काट लेने संबंधी बयान को लेकर कोलकाता (Kolkata) में 3 मुकदमे दर्ज (lawsuit filed) किए जा चुके हैं। बंगाल पुलिस पहले भी योगेश की गिरफ़्तारी के लिए आ चुकी है। शुक्रवार (Friday) को टीम (team) फ़िर से पहुँची, जिसके बाद मामले ने तूल पकड़ (matter caught up) लिया।

Leave A Reply

Your email address will not be published.