कानपुर के ग्राम पंचायत चयनितों ने कहा कि इसमें भर्ती होने से अच्छा है कि हम कहीं पिज्ज़ा बेच लें

0

उत्तर प्रदेश। ग्राम पंचायत सहायक (Gram Panchayat Assistant) बनने के लिए एक ओर जहां लोग सिफारिशें (recommendations) लगा रहे हैं, वहीं कानपुर (Kanpur) जिले के कल्याणपुर (Kalyanpur) और पतारा (Patara) की एक-एक ग्राम पंचायत (Gram Panchayat) में चयनित युवाओं (selected youth) ने नियुक्ति पत्र (appointment letter) मिलने से पहले ही इस्तीफा (resignation) दे दिया। इसके पीछे तर्क दिया (argued) कि पिज्जा बेचना (selling pizza) कंप्यूटर ऑपरेटर (computer operator) बनने से ज्यादा फायदेमंद (profitable) है।

यूपी में योगी सरकार ने जारी किया दिशानिर्देश, शादी समारोह में अब शामिल हो सकेंगे 100 लोग

हालांकि विभाग (department) ने इस्तीफे स्वीकार (resignation accept) नहीं किए हैं। डीपीआरओ कमल किशोर (DPRO Kamal Kishor) ने बताया कि नियुक्ति पत्र (appointment letter) मिलने से पहले किसी भी तरह का इस्तीफा स्वीकार (resignation accept) नहीं किया गया है। आवेदकों (applicants) के दस्तावेजों (documents) का सत्यापन (verification) होगा। जांच (investigation) में गड़बड़ी (error) मिलने पर कार्रवाई (action) की जाएगी।

डीआरआई ने एनसीआर क्षेत्र में ड्रग्स आपूर्ति के आरोप में दो अफ़गान नागरिकों को किया गिरफ़्तार

Leave A Reply

Your email address will not be published.