15वीं मंजिल से गिरकर छात्रा की मौत

0

रांची. इमारत की 15वीं मंजिल से कूदकर जान देनेवाली विनीता कुमारी की मौत का रहस्य गहराता हुआ नजर आ रहा है. पुलिस को अबतक विनीता का मोबाइल भी बरमाद नहीं हुआ है, विशेष बात यह भी है कि विनीता के परिजन उसके डिप्रेशन में जाने की बात से इंकार कर रहे हैं. उनका कहना है कि वो जिंदादिल मिजाज की लड़की थी और उसका सपना बड़ा अधिकारी बनना था. इसके लिए वह तैयारी भी कर रही थी.

CM योगी ने मानीं सभी मागें

कथित सुसाइड नोट हिंदी में लिखा मिला था इसे लेकर भी परिजन सवाल उठा रहे हैं. उनका कहना है कि अमूमन वो अगर कुछ लिखती भी थी तो उसका लैंग्वेज इंग्लिश में रहता था. वहीं मामले में अबतक विनीता का मोबाइल भी बरामद नहीं हुआ है इस कारण भी मौत का रहस्य गहराता जा रहा है. परिजनों के अनुसार विनीता मोबाइल लेकर ही सुबह घर से निकली थी.

गंगा को स्वच्छ और प्रदूषण मुक्त रखने के लिए यूपी सरकार एक अन्य प्रयासों में जुटी

सिटी डीएसपी दीपक कुमार का कहना है कि प्राथमिक जांच में मामला आत्महत्या का नजर तो आया है, लेकिन पुलिस सभी बिंदुओं पर जांच कर रही है. जो भी सच्चाई होगी उसे पुलिस जल्द अनुसंधान में सामने लाएगी. पुलिस के अनुसार विनीता के बैग से एक सुसाइड नोट बरामद किया था, जिसमें डिप्रेशन की बात लिखी गई थी. वहीं पुलिस के अनुसार सुसाइड नोट में विनीता ने लिखा है कि वो जिंदगी से थक चुकी है और उसका मन पढ़ाई में नहीं लग रहा.

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने बाराबंकी को दिया 340 करोड़ रूपए की लागत के बिस्कुट बेकरी प्लांट का तोहफ़ा

Leave A Reply

Your email address will not be published.