पाँच महीने की मासूम के साथ चचेरे भाई ने किया बलात्कार और फिर कर दी उसकी हत्या, अदालत ने सुनाई मौत की सज़ा

0

लखनऊ। विशेष पॉक्सो अदालत (special poxo court) ने पाँच महीने (5 months) की बच्ची (baby girl) के साथ बलात्कार (rape) करने और उसकी हत्या (murder) करने के दोषी 27 वर्षीय सगे चचेरे भाई (cousin brother) प्रेमचन्द्र उर्फ पप्पू दीक्षित को फाँसी (hanged) की सजा (Punishment) सुनाई है।

शराब परोसने में देरी होने पर बौखलाए गुंडों ने बार टेंडर की कर दी हत्या

अदालत (court) ने कहा है कि उच्च न्यायालय (high Court) से सजा की पुष्टि (Confirmation) के बाद मुल्जिम (accused) की गर्दन में फाँसी (hang) लगाकर उसे तब तक लटकाया (hanged) जाए जब तक कि उसकी मृत्यु (death) न हो जाए। दोषी (Guilty) स्वयं विवाहित (married) व एक नाबालिग (minor) का पिता (father) है।

रुपये वसूलने वाला जालसाज गिरफ्तार…….

विशेष न्यायाधीश अरविंद मिश्रा ने दोषी पर 70 हजार रुपये का जुर्माना (Fine) भी लगाया है। उन्होंने इसके अपराध (Crime) को दुर्लभतम (rarest) से दुर्लभ (rare) करार देते हुये कहा कि जुर्माने की रकम पीड़िता (victim) के पिता को दी जाये। उन्होंने अपने फैसले (decision) में कहा, ‘‘भारत (India) में कन्या (girl) को देवी (goddess) माना जाता है।

प्रदूषण के कारण 9 साल में दोगुनी हो सकती है मौतों……

नवरात्रि में नौ दिन के व्रत के बाद देवी दुर्गा का रूप मान कन्याओं को भोजन (feed) कराकर व्रत तोड़ा जाता है। ऐसे में दोषी ने जिस तरह एक शिशु के साथ बलात्कार (rape) कर उसकी हत्या (murder) की, उससे यह मामला (matter) विरलतम से विरल की श्रेणी (section) में आता है और उसे फाँसी (hanged) से कम (low) की सजा (Punishment) नहीं दी जा सकती।”

आनंद गिरि के खिलाफ सीबीआई को मिले ठोस सबूत

Leave A Reply

Your email address will not be published.