फेनिल ग्रुप की वाॅल्टरगंज चीनी मिल की चिमनी पर चढ़े 2 कर्मचारी, बकाया वेतन ना मिलने के कारण कूद जाने की देने लगे धमकी

0

उत्तर प्रदेश। यूपी (UP) के जिला बस्ती (Basti) में फेनिल ग्रुप (Fenil group) की वॉल्टरगंज चीनी मिल (Walterganj Sugar Mills) की चिमनी (chimney) पर मंगलवार (Tuesday) को 2 कर्मचारी (workers) चढ़ गए (climbed up)। इसके बाद वे चिमनी से नीचे कूदने (jump down) की धमकी (Threat) देने लगे। चीनी मिल की चिमनी पर दो कर्मचारियों के चढ़ने की सूचना (information) के बाद हड़कंप (stir) मच गया।

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गाँधी धारा 144 का उल्लंघन करने के जुर्म में हुई गिरफ़्तार, FIR दर्ज

चिमनी पर चढ़े कर्मचारियों की मांग (demand) है कि मिल कर्मचारियों का पिछले कई साल से बकाया (outstanding for the past several years) वेतन का भुगतान (payment of salary) किया जाए। उन्‍हें चिमनी से उतारने की कोशिशें (try) जारी (Ongoing) हैं।

इस साल की NEET-SS परीक्षा, केंद्र ने SC को दी जानकारी

पिछले करीब चार साल (years) से बन्द (closed) चल रही चीनी मिल की चिमनी पर मिल के दो कर्मचारियों के चढ़ जाने और मांगो को पूरा न किए जाने की स्थिति में कूदकर जान देने (to die) की सूचना (information) मिलने के बाद जिला प्रशासन की टीम (district administration team) मौके पर (on occasion) पहुंची। चिमनी पर चढ़े लोगों से वार्ता (talk) कर उन को चिमनी से नीचे उतरने के लिए मनाया जा रहा है, लेकिन अभी इसमें प्रशासन को कोई सफलता (success) नहीं मिल पाई है। पिछले पांच घंटे (hours) से दोनो मिल की चिमनी के ऊपर ही मौजूद (Present) हैं।

स‍िलेंडर व‍िस्‍फोट में घायल तीन और मरीजों ने तोड़ा दम….

वॉल्टरगंज चीनी मिल को बन्द हुए लगभग 4 साल हो चुके हैं, लेकिन तब से लेकर आज तक कर्मचारियों (workers) और किसानों (farmers) का बकाया वेतन (back pay), गन्ना मूल्य भुगतान (sugarcane price payment) नहीं मिल पाया है। वर्ष 2018 में अचानक (suddenly) चीनी मिल बंद कर दी गई, कर्मचारी और किसान अपना भुगतान पाने के लिए आवाज उठा (sounded up) रहे हैं। इस चीनी मिल पर कर्मचारियों का 11 करोड़ (crore), किसानों का 42 करोड़ (crore) से ज्यादा का बकाया (Arrears) है।

बाइक चोर गिरोह का पर्दाफाश किया , साथ ही बाइक चोरों को गिरफ्तार….

Leave A Reply

Your email address will not be published.