लखीमपुर हिंसा मामले में संदिग्ध रूप से शामिल केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा का क्या होगा…??

0

लखीमपुर खीरी। लखीमपुर खीरी (Lakhimpur khiri) हिंसा मामले (violence cases) में केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी (Union Minister Ajay Mishra Teni) के बेटे (son) आशीष मिश्रा (Ashish Mishra) की भूमिका संदिग्ध (role suspect) है। उनके खिलाफ (against) एफआईआर (FIR) भी दर्ज (filed) हो चुकी है और पुलिस (police) उनसे पूछताछ (inquiry) की तैयारी (preparation) कर रही है। अजय मिश्रा के खिलाफ आईपीसी की धारा 302 (IPC section 302) के तहत हत्या का केस (case of murder) दर्ज (filed) किया गया है।

फेनिल ग्रुप की वाॅल्टरगंज चीनी मिल की चिमनी पर चढ़े 2 कर्मचारी, बकाया वेतन ना मिलने के कारण कूद जाने की देने लगे धमकी

आशीष मिश्रा पर आरोप (allegation) है कि वह उसी जीप (jeep) में मौजूद (present) थे जिसने किसानों (farmers) को कुचला (crushed)। साथ ही आशीष पर गोलियां चलाने (run bullets) का भी आरोप (blame) है। एक टीवी न्यूज चैनल (TV news channel) से बातचीत (talks) में लखनऊ आईजी लक्ष्मी सिंह (Lucknow IG Lakshmi Singh) ने बताया, ‘लखीमपुर खीरी हिंसा (Lakhimpur khiri violence) में दो एफआईआर (FIR) हुई हैं।

कांग्रेस राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका गाँधी धारा 144 का उल्लंघन करने के जुर्म में हुई गिरफ़्तार, FIR दर्ज

दूसरी एफआईआर में किसी को नामजद (nominated) नहीं किया गया है।’ आशीष मिश्रा से पूछताछ के सवाल (question) पर उन्होंने कहा, ‘पहले हम जांच (investigation) करेंगे और फिर उन्हें बुलाएंगे (called him)।’ कहा जा रहा है कि 302 के तहत एफआईआर दर्ज होने के चलते आशीष मिश्रा को गिरफ्तार (arrest) भी किया जा सकता है।

इस साल की NEET-SS परीक्षा, केंद्र ने SC को दी जानकारी

Leave A Reply

Your email address will not be published.