संयुक्त किसान मोर्चा की तरफ़ से सोमवार को रेल रोको आंदोलन की घोषणा को देखते हुए प्रदेश में जारी हुआ हाई अलर्ट

0

उत्तर प्रदेश। संयुक्त किसान मोर्चा (United Kisan Morcha) की तरफ से सोमवार को रेल रोको आंदोलन (rail stop movement) की घोषणा को देखते हुए प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया है। तीनों कृषि कानूनों के विरोध में घोषित प्रदर्शन के इस कार्यक्रम के कारण प्रदेश के 14 जिलों में खास सतर्कता बरती जा रही है।

रायबरेली के रहने वाले नागेंद्र पिछले 9 सालों से मना रहे हैं अपने यहाँ पाले गए बकरे का जन्मदिन

पुलिस के वरिष्ठ अफ़सर इन जिलों में पहले से कैम्प कर रहे हैं। पुलिस (police) व पीएसी (PAC) के साथ ही जीआरपी (GRP) और आरपीएफ (RPF) को भी सुरक्षा प्रबंधों में तैनात किया गया है। मोर्चा ने सोमवार को देश भर में सुबह 10 से शाम चार बजे तक रेल-पटरियों पर धरना देकर ट्रेनें रोकने का ऐलान किया है। प्रदेश के एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि जिलों के अफसरों को किसान संगठनों के प्रतिनिधियों से बातचीत कर शांति व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए गए हैं।

रविवार को यूपी में हुई बिन मौसम बरसात ने उजाड़ दिए कई घर और बर्बाद कर दी लाखों की फ़सलें….

आंदोलन में अराजकतत्वों के घुसने की आशंका को देखते हुए संवेदनशील जिलों में अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती भी की गई है। इससे पहले शासन के गृह विभाग ने पर्याप्त पुलिस बल की तैनाती करते हुए सेक्टर व्यवस्था लागू करने के निर्देश दिए थे। साथ ही प्रदेश के 14 संवेदनशील जिलों 20 वरिष्ठ पुलिस अफसरों की तैनाती की गई है।

कोरोना संक्रमण का शिकार हुए मृतकों के परिजनों को 50 हज़ार रुपए की आर्थिक मदद करेगी योगी सरकार…..

इनमें लखीमपुर खीरी, बरेली, मेरठ, बहराइच, गाजियाबाद, शामली, पीलीभीत, मुजफ्फरनगर, अमरोहा, शाहजहांपुर, मुरादाबाद, बिजनौर, रामपुर व बागपत शामिल है। लखीमपुर खीरी (Lakhimpur khiri) जिले में डीआईजी उपेन्द्र अग्रवाल समेत 10 राजपत्रित पुलिस अधिकारी तीन अक्तूबर से ही तैनात हैं।

टैक्सी ड्राइवर को पीट रहे कार चालकों से बचाने गए डिलिवरी बॉय का मनबढ़ों ने काट लिया कान

Leave A Reply

Your email address will not be published.