रविवार को यूपी में हुई बिन मौसम बरसात ने उजाड़ दिए कई घर और बर्बाद कर दी लाखों की फ़सलें….

0

उत्तर प्रदेश। रविवार दोपहर से यूपी (UP) के कई जिलों में शुरू हुई बारिश ने गर्मी से तो लोगों को राहत दे दी, लेकिन किसानों पर आफ़त बनकर टूट पड़ी। पश्चिमी यूपी (Western UP) के कई जिलों में रविवार से हो रही बारिश में सैकड़ों बीघे धान और बाजरे की फसल पानी में डूब गई। यही नहीं, हरदोई में देर रात आई आँधी पानी में दो मजदूरों की मौत (death) भी हो गई। तेज़ आँधी पानी से बचने के लिए दोनों ने एक पेड़ की शरण ली थी।

कोरोना संक्रमण का शिकार हुए मृतकों के परिजनों को 50 हज़ार रुपए की आर्थिक मदद करेगी योगी सरकार…..

इस बीच यूकेलिप्टस का पेड़ गिरने से दोनों दब गए। एक मजदूर ने मौके पर तो दूसरे ने अस्पताल में दम तोड़ा। उधर अमरोहा में पिछले 24 घंटे से हो रही मूसलाधार बारिश (heavy rainfall) की वजह से तीन मकान भरभराकर गिर गए। गनीमत ये रही कि कोई भी हताहत नहीं हुआ। लेकिन घर में रखा लाखों का सामान मलबे में दब गया। घटना हसनपुर तहसील के जेबड़ा मुस्तकम गाँव का है।

टैक्सी ड्राइवर को पीट रहे कार चालकों से बचाने गए डिलिवरी बॉय का मनबढ़ों ने काट लिया कान

बिजनौर (Bijnaur) में भारी बारिश की वजह से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया। जगह-जगह जलभराव और बिजली गुल होने से लोगों को खासा दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं, सैकड़ों बीघे धान और बाजरे की फसल भी पानी में डूब गई जिससे किसानों (farmers) को भारी नुकसान का अंदेशा भी जताया जा रहा है।

गाज़ियाबाद में डेंगू ने तोड़ा पिछले 6 साल का रिकॉर्ड, मरीजों की संख्या पहुँची 624 के पार…..

Leave A Reply

Your email address will not be published.