पिछले दो दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश के कारण पीलीभीत में आई बाढ़, पलायन को मजबूर हुए लोग….

0

उत्तर प्रदेश। यूपी (UP) के पीलीभीत (Pilibheet) में पिछले दो दिनों से लगातार हो रही मूसलाधार बारिश और बाँधों से छोड़े गए पानी ने भारी तबाही मचाई है। जिले में शारदा और देवहा नदियों के उफ़ान के कारण कई गाँव बाढ़ की चपेट में हैं।

सरकार बनने पर इंटर पास छात्राओं को स्मार्टफोन तो ग्रेजुएट लड़कियों को मिलेगी स्कूटी, प्रियंका गांधी

बाढ़ (Flooding) की भयावह स्थिति में फँसे लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए प्रशासन को सेना (Army) की मदद लेनी पड़ी। क्षेत्रीय बीजेपी सांसद वरुण गांधी ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) को पत्र लिखकर बाढ़ के कारण फसलों को हुए नुकसान का मुआवज़ा किसानों को देने की माँग की है।

करवा चौथ के मौके पर सजे बाजार, महिलाओं ने शुरू की खरीदारी….

पीलीभीत के डीएम ने बुधवार को बताया कि पिछले दो दिन में हुई बेमौसम बारिश के कारण शारदा और देवहा नदियों ने रौद्र रूप ले लिया है। इनके किनारे बसे कई गाँव (villages) बाढ़ की चपेट में आ गए हैं। उन्होंने बताया कि बाढ़ में फँसे लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाने के लिए सेना की मदद ली जा रही है और उसने अब तक बाढ़ में जगह-जगह फँसे 26 लोगों को हेलीकॉप्टर से सुरक्षित स्थानों पर पहुँचाया है।

डांस कर रहे थे फॉरेंसिक एक्सपर्टअचानक फ्लोर पर गिरे, मौत…..

जिले के शारदा पुनहाना, गुनहा, गोरख डिब्बी और पलिया में करीब 500 ग्रामीणों के बाढ़ में फँसे होने की सूचना है। खरे ने बताया कि मंगलवार को पीलीभीत पीएसी फ्लड यूनिट के जवानों ने इन ग्रामीणों को नाव की मदद से सुरक्षित निकालने का प्रयास किया था, मगर शारदा के भीषण उफ़ान के कारण अभियान टालना पड़ा था।

अदालत ने फिर खारिज की जमानत याचिका,आर्यन खान…

मौके पर पहुँचे अधिकारियों ने उन्हें हेलीकॉप्टर (helicopter) की मदद से निकालने की योजना बनाई और रात ही में सेना को सूचित किया गया और बरेली (Bareilly) से आई सैन्य टुकड़ी ने आज सुबह ही बचाव अभियान (rescue operation) शुरू कर दिया। सेना के कुछ जवानों ने बताया कि शारदा पार के गाँव में लगभग 500 ग्रामीण बाढ़ में फँसे हुए हैं और उन्हें सुरक्षित (safely) निकालने में अभी और वक्त लगेगा।

बरेली में एक होमगार्ड की ट्रक की चपेट में आने से हुई मौत, ड्यूटी करके लौट रहे थे अपने घर….

Leave A Reply

Your email address will not be published.