लखीमपुर खीरी हिंसा मामले में सुनवाई पर कल रात 1 बजे तक स्टेटस रिपोर्ट का इंतज़ार करती रही सुप्रीम कोर्ट, योगी सरकार से जताई नाराज़गी…

0

नई दिल्ली। लखीमपुर खीरी (Lakhimpur khiri) में तीन अक्टूबर को हुई हिंसा के मामले की अदालत की निगरानी में जाँच की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई जारी है, जिसे CJI एनवी रमना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की पीठ कर रही है। यूपी सरकार (UP government) की तरफ से हरीश साल्वे ने कहा कि हमने सील कवर में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल की है। CJI ने यूपी सरकार पर नाराजगी जताई। सीजेआई ने कहा कि आपकी स्टेट्स रिपोर्ट हमें अभी मिली है। आपको कम से कम 1 दिन पहले फाइल करनी चाहिए।

पुलिस कस्टडी में मारे गए सफाईकर्मी के परिजनों से प्रियंका गाँधी ने की मुलाकात, दिया हर संभव मदद करने का आश्वासन

हरीश साल्वे ने कहा कि आप मामले की सुनवाई (the hearing) शुक्रवार तक टाल दीजिए। कोर्ट ने यूपी सरकार की ये माँग ठुकरा दी। CJI ने कहा कि हम कल रात एक बजे तक इंतज़ार करते रहे कि कुछ मैटेरियल मिले। आखिरी क्षणों में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल की गई। CJI ने यूपी सरकार (UP government) से पूछा कि आपने 44 लोगों की गवाही ली है, बाकी की क्यों नहीं…?? साल्वे ने इस पर जवाब दिया कि फिलहाल प्रक्रिया चल रही है। साल्वे ने कहा कि दो अपराध हैं।

आगरा जाते समय सड़क हादसे की मिली जानकरी तो रूककर पीड़ित बच्ची का हालचाल लेने लगीं प्रियंका गाँधी….

एक मामला किसानों पर गाड़ी चढ़ाने का और दूसरा लिंचिंग (linching) का। पहले मामले में दस लोग गिरफ़्तार किए गए हैं। CJI ने पूछा कि कितने लोग न्यायिक हिरासत (judicial custody) और कितने पुलिस हिरासत में हैं..?? यूपी सरकार की ओर से बताया गया है कि 4 आरोपी पुलिस हिरासत में हैं और 6 आरोपी पहले पुलिस हिरासत में थे जो कि अब न्यायिक हिरासत में हैं।

कारीगर सगीर की हत्या करने वाले आतंकियों को सेना के जवानों ने एक अभियान के दौरान जम्मू-कश्मीर में किया ढेर….

Leave A Reply

Your email address will not be published.