यूपी में खाद की समस्या से निजात दिलाने के लिए केंद्र सरकार ने आवंटित किए 6 लाख मिट्रिक टन DAP….

0

लखनऊ। प्रदेश में खाद का संकट (fertilizer crisis) अब दूर हो जाएगा। खासतौर से डीएपी की किल्लत को लेकर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों से शिकायतें मिल रही थीं। केंद्र सरकार (State Government) ने यूपी (UP) के लिए छह लाख मीट्रिक टन से अधिक डीएपी का आवंटन (allotment) किया है।

समाजसेवी सावित्री देवी ने माँग पूरी न होने पर किया भू-समाधि लेने का फैसला….

प्रदेश को यह डीएपी इसी नवंबर में मिलेगी। आगामी एक सप्ताह में इस समस्या का निदान हो जाने की उम्मीद है। इसके अलावा यूपी सहित अन्य राज्यों को खाद और यूरिया भी आवंटित की गई है।

यूपी पुलिस SI भर्ती परीक्षा का जारी हुआ शेड्यूल, 12 नवंबर से 2 दिसंबर तक होगी परीक्षा….

रबी की फसल की बुवाई शुरू हो चुकी है। यह सिलसिला करीब 15 से 20 दिसंबर तक चलेगा। ऐसे में डीएपी (DAP) की कमी से किसानों में बेचैनी थी। खाद की कमी के मामले जैसे ही प्रदेश के कुछ हिस्सों से सुनाई देने लगे तो तमाम लोगों ने इसका स्टॉक करना शुरू कर दिया। खाद की किल्लत की सबसे ज़्यादा शिकायत पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जिलों खासकर आलू उत्पादन वाली बेल्ट में और बुंदेलखंड (Bundelkhand) की दलहन वाली बेल्ट से आ रही थी।

वन दरोगा के 500 पदों के लिए जल्द ही शुरू होने वाले हैं आवेदन….

स्टॉक और कालाबाज़ारी (black marketing) रोकने के लिए राज्य सरकार ने हाल ही में किसानों को उनकी जोत बही के अनुसार ही खाद के आवंटन का निर्देश दिया था। इसके अलावा सभी मंडलायुक्त और जिलाधिकारियों (District Megistrates) को लगातार चेकिंग और अधिकारियों की देखरेख में खाद वितरण कराने को भी कहा गया है।

सपा विधायक सुभाष पासी ने अखिलेश का साथ छोड़ थामा योगी का हाथ….

Leave A Reply

Your email address will not be published.