आत्महत्या करने के बाद बेटे के शव को रेलवे लाइन पर छोड़कर भागा पिता….

0

पीलीभीत। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जिला पीलीभीत (Pilibheet) के न्यूरिया थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मैदना गाँव में पुलिस (police) को 30 अक्टूबर की सुबह रेलवे लाइन पर युवक का शव मिलने की सूचना मिली थी। मौके पर पहुँची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम (autopsy) के लिए भेज दिया था।

भारत की हार पर पत्नी ने मनाया जश्न तो पति ने कर दी उस पर FIR….

घटना के कुछ देर बाद मृतक की शिनाख्त (identification) गाँव के ही रहने वाले अमर सिंह के 25 वर्षीय पुत्र अंशु सोनकर के रूप में हुई थी। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में युवक की मौत गोली लगने से होना पाया गया था। घटना की जाँच के दौरान पुलिस ने परिजनों से पूछताछ की।

पंचोत्सव के चार दिन बाद बैंक खुलने पर खाताधारकों की उमड़ी भीड़…..

अंशु के पिता अमर सिंह ने पुलिस को बताया कि उसके बेटे ने घर में ही अपने दादा की लाइसेंसी बंदूक से गोली मारकर आत्महत्या (suicide) कर ली थी। पुलिस की कार्रवाई के डर से अमर सिंह ने ही पास में ही रहने वाले रिश्तेदारों की मदद से शव को रेलवे लाइन (railway line) किनारे ले जाकर फेंक दिया था। परिजनों की मानें तो अंशु को 6 महीने पहले एक विवाहित महिला से प्रेम हो गया था। महिला अंशु के साथ ही रहने लगी थी।

मतदाता सूची को अपडेट करने के लिए रविवार को सभी पोलिंग बूथों पर चला अभियान….

अंशु के आत्महत्या करने से 2 दिन पहले महिला अचानक कहीं गायब हो गई, जिसका कोई सुराग नहीं लगा। परिजनों का कहना है कि अंशु इसके बाद से परेशान रहता था। वहीं, अपर पुलिस अधीक्षक पवित्र मोहन त्रिपाठी ने बताया कि अंशु ने जिस लाइसेंसी बंदूक (licensed gun) से आत्‍महत्‍या की थी, उसे बरामद कर लिया गया है। घटना के संबंध में मुकदमा दर्ज किया गया है। बंदूक को फॉरेंसिक जाँच (forensic test) के लिए भेजा जा रहा है।

राशन वितरण एजेंसी संचालक पर धोखाधड़ी व महिला से छेड़छाड़ का लगा आरोप….

Leave A Reply

Your email address will not be published.