अखिलेश यादव का बयान, कृषि कानून वापस लेने में अहंकारियों की हार और किसानों की जीत है

0

नई दिल्ली। नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi government) के तीनों कृषि कानून वापस लेने के ऐलान के बाद उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के पूर्व मुख्यमंत्री व समाजवादी पार्टी सुप्रीमो अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस (press conference) की और कहा कि यह अहंकारी की हार है और प्रजातंत्र (democracy) व किसानों की जीत। उन्होंने कहा, “हम उन लोगों को धन्यवाद कहना चाहते हैं।

जश्न ए जौनपुर के प्रतियोगिता में लीजिए भाग और जीतिए एक लाख का इनाम

जिन्होंने इस आंदोलन (protest) को सफल बनाया और सरकार को काले कानून (black law) वापस लेने के लिए मजबूर कर दिया। यह अहंकारी की हार है। जनता इन्हें माफ़ नहीं करेगी, बल्कि इन्हें साफ करने का काम करेगी।” गौरतलब है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सुबह 9 बजे देश को संबोधित करते हुए तीनों कृषि कानून (agricultural law) वापस लेने की घोषणा की। इन कानूनों के विरोध में काफी समय से देशभर में किसान आंदोलन कर रहे हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.