अगर आप भी सीखना चाहते हैं संस्कृत तो दीजिए एक मिस्ड कॉल और बन जाइए एक्सपर्ट

0

मेरठ। संस्कृत (Sanskrit) को प्रत्येक युवा तक पहुँचाने के लिए जहाँ संस्कृत भारती (sanskrit bharti) द्वारा विभिन्न प्रयास किए जा रहे हैं। वहीं उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) संस्कृत संस्थान द्वारा भी मिस्ड कॉल (missed call) को माध्यम बनाया गया है। ताकि जो संस्कृत प्रेमी संस्कृत का अध्ययन (Study) करना चाहते हो उन लोगों को निःशुल्क (Free) संस्कृत सिखाई जा सके।

यह बात उत्तर प्रदेश संस्कृत भाषा संस्थान के अध्यक्ष डॉ वाचस्पति मिश्र ने न्यूज़ 18 लोकल मेरठ (Meerut) की टीम से खास बातचीत करते हुए कही। उन्होंने कहा कि संस्कृत को खोई पहचान वापस दिलाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार (Uttar Pradesh government) को भी विभिन्न प्रस्ताव दिए हैं। जिन पर सरकार द्वारा विचार विमर्श किया जा रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.