ठा. श्यामनरायण व सरदार पटेल महाविद्यालय के माइक्रोबायोलॉजी इंटरडिसिप्लीनरी डिपार्टमेंट ने कराया राष्ट्रीय र्ई सम्मेलन

0

ग्रेटर नोएडा। नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट जेवर (Noida International Airport Jewar) न केवल गौतमबुद्ध नगर (Gautambuddha Nagar), बल्कि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) को भी नई उड़ान देगा। बेहतर योजना के साथ बसाए गए ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) में औद्योगिक और आवासीय भूखंडों की माँग बढ़ी है। यही कारण है कि ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण आठ नए औद्योगिक सेक्टर (industrial sector) बसा रहा है।


जेवर इंटरनेशनल एयरपोर्ट के निर्माण से लगभग 2 लाख लोगों को मिलेगा रोजगार

यहाँ पर हीरा नंदानी (Hira Nandani) जैसा ग्रुप डाटा सेंटर हब विकसित कर रहा है। यमुना प्राधिकरण में तो उद्योगों को कलस्टर के रूप में बसाया जा रहा है। कोविड (Covid) काल में यमुना प्राधिकरण में 1259 कंपनियों को भूखंड आंवटित किए गए। इससे आठ हजार करोड़ का निवेश आएगा और करीब दो लाख लोगों को रोजगार (employment) मिलेगा। यही कारण है कि प्राधिकरणों (Authorities) ने पाँच प्रतिशत तक जमीनों के दाम बढ़ा दिए हैं।

जश्न ए जौनपुर के प्रतियोगिता में लीजिए भाग और जीतिए एक लाख का इनाम

Leave A Reply

Your email address will not be published.