ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

अयोध्या से नहीं लड़ रहे सीएम योगी चुनाव, आचार्य सत्येंद्र दास ने खुशी जताते हुए कहीं यह बात

0

*अयोध्या
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अयोध्या से चुनाव लड़ने की अटकलों पर विराम लगने के बाद राम मंदिर के मुख्य पुरोहित आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि अच्छा हुआ योगी आदित्यनाथ यहां से चुनाव नहीं लड़े वरना उन्हें जबरदस्त विरोध का सामना करना पड़ता।

गोरखपुर से लड़ने का दिया सुझाव
सत्येंद्र दास ने दावा किया कि उन्होंने रामलला से पूछ कर योगी को सलाह दी थी। कि वह अयोध्या के बजाये गोरखपुर से चुनाव लड़े।

वाराणसी में कोरोना की कहर से बीएचयू में भर्ती 2 मरीजों की मृत्यु।।

पिछले 30 वर्षों से राम मंदिर के मुख्य पुरोहित का दायित्व निभा रहे दास ने सोमवार को कहा, मैंने उन्हें सुझाव दिया था, कि बेहतर होगा कि वह अयोध्या के बजाय गोरखपुर की किसी सीट से चुनाव लड़े।

आचार्य सत्येंद्र दास ने कहा कि वह महसूस करते हैं, कि भाजपा राम मंदिर को कभी अपने एजेण्डा से बाहर नहीं निकालेगी।
इस सवाल पर कि उन्होंने योगी को अयोध्या से चुनाव न लड़ने की सलाह क्यों दी दास ने कहा,’हम तो रामलला से पूछ कर बोलते हैं, हम रामलला की प्रेरणा से बोले थे। यहां के साधू एकमत नहीं है। विकास परियोजनाओं के लिए जिन लोगों के मकान तोड़े गए हैं, वे सब योगी के खिलाफ है।

सीएम योगी का अखिलेश यादव पर तीखा हमला, कहा तमंचावादी हैं सपाई और दंगा व हिंसा करना है इनका काम….

विरोध का सामना करना पड़ता
इसके अलावा जिन लोगों की दुकानें तोड़ी जानी है, वह सब भी सीएम योगी से नाराज है। उन्होंने कहा कि सभी कह रहे हैं कि यह योगी का काम है, इतना विरोध देखने के बाद मैंने योगी जी से कहा कि बेहतर होगा कि वह गोरखपुर से चुनाव लड़े। दास ने कहा कि वैसे योगी यहां से भी चुनाव जीत जाते लेकिन उन्हें समस्याओं का सामना करना पड़ता।

जौनपुर : भापजा के युवा नेता श्रीकांत सोलंकी की भाजपा में हुई वापसी ।

राजनीतिक गलियारों में यह चर्चा सरगम थी, कि योगी अयोध्या से चुनाव लड़ सकते हैं लेकिन भाजपा नेतृत्व ने उन्हें गोरखपुर नगर सीट से अपना उम्मीदवार बनाया है। अयोध्या के चुनावी फिजा के बारे में पूछे

Leave A Reply

Your email address will not be published.