ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

यूपी में IPS कैडर रिव्यू के तहत बढ़ाए गए 24 पद, कानून व्यवस्था दुरुस्त करने में सरकार को अधिकारियों से मिलेगी मदद….

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भारतीय पुलिस सेवा संवर्ग (IPS Cader) के 24 पद और बढ़ गए हैं। वर्ष 2014 के बाद अब कैडर रिव्यू (cader review) हुआ है जिसके तहत पद बढ़े हैं। उत्तर प्रदेश में आईपीएस अफ़सरों (IPS officers) की संख्या बढ़ने से कानून-व्यवस्था दुरुस्त (law and order) करने में अब सरकार (government) को अधिकारियों से बेहतर मदद मिलेगी।

आजमगढ़ में बाप-बेटा होंगे आमने-सामने, सपा व भाजपा में काँटे की होगी टक्कर….

दरअसल, काफ़ी समय बाद आईपीएस कैडर रिव्यू माँग (demand) हो रही थी। लखनऊ (Lucknow) और नोएडा पुलिस कमिश्नरेट (Noida Police commissionrate) में एसपी रैंक (SP rank) के 17, आईजी (IG) और डीआईजी (DIG) के 2-2 पद काडर पोस्ट किए गए। जोन में एडीजी (ADG) की पोस्ट को काडर पोस्ट बनाया गया।

कांग्रेस को लग सकता है बड़ा झटका, राज बब्बर एक बार फ़िर थाम सकते हैं सपा का हाथ….

जबकि 18 रेंज में से 8 रेंज पर आईजी और 10 रेंज में डीआईजी की तैनाती होगी। वहीं अयोध्या (Ayodhya) में डीआईजी पीएसी सेक्टर (PAC sector) का नया पद बनाया गया है। बता दें कि डीजी कारागार (DG Prisons) का पद आईपीएस संवर्ग (IPS cadre) के लिए स्वीकृत नहीं हो सका है। बीते दिनों शासन ने इसका प्रस्ताव केंद्र सरकार (Central government) को भेजा था।

नोएडा अथॉरिटी करा रही है पेट्स का रजिस्ट्रेशन, न कराने वाले मालिकों पर 15 फरवरी से लगेगा जुर्माना….

वर्तमान में आईजी कारागार का पद काडर पोस्ट है, जिस पर डीजी स्तर के अधिकारी तैनात हैं। डीजी स्तर के पद न बढ़ने से एडीजी स्तर के अधिकारियों की जल्द पदोन्नति (Promotion) की राह भी रुक गई है। लखनऊ और गौतबुद्धनगर (Gautambuddha Nagar) के पुलिस आयुक्त (Police Commissioner) व एडीजी साइबर क्राइम (ADG cyber crime) के पदों को काडर पोस्ट के रूप में स्वीकृति नहीं मिल सकी है।

यूपी में कोरोना तेज़ी से पसार रहा अपने पाँव, 24 घंटे के अंदर हुई 23 लोगों की मौत….

Leave A Reply

Your email address will not be published.