ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

बहराइच के BJP नेता अरुणवीर सिंह का “मदद महल” बना सभी समुदायों के लिए एकता की मिसाल, जानिए क्या है खास

0

उत्तर प्रदेश। एक तरफ जहाँ भारतीय जनता पार्टी, बीजेपी (Bhartiya Janata Party, BJP) पर विपक्षी दल ‘हिंदू-मुस्लिम’ विभाजन (Hindu-Muslim divide) और ध्रुवीकरण की राजनीति (politics of polarization) का आरोप (allegation) लगाते हैं वहीं दूसरी तरफ भगवा दल (Bhagva Dal) का एक नेता दोनों समुदाय के लिए एकता की मिसाल पेश करता है। चुनावी राज्य (electoral state) उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बहराइच (Bahraich) में बीजेपी के एक नेता का ‘मदद महल’ (Madad Mahal) सभी धर्मों के लोगों के लिए मेल-मिलाप का स्थान है। हर सुबह अरुणवीर सिंह (Arunveer Singh) हरिहरपुर राइकवारी गाँव स्थित अपने घर में बने मंदिर (temple), मस्जिद (mosque), गुरुद्वारा (gurudwara) और चर्च (church) में पूजा करते हैं। यह उनके लिए कोई नया चलन नहीं है, बल्कि पिछले 5 दशकों से उनका घर सामाजिक एकता का मिसाल बना हुआ है, जिसे लोग ‘मदद महल’ कहते हैं।

उत्तर प्रदेश के मुस्लिम बाहुल्य मटेरा सीट से चुनाव (election) लड़ रहे 59 वर्षीय अरुणवीर सिंह मानते हैं कि वह वर्षों से सामुदायिक सद्भावना (community goodwill) के लिए जो काम कर रहे हैं, उसका फायदा चुनाव में भी होगा। अरुणवीर सिंह के पिता यशवीर सिंह ने मदद महल में 1967 में प्रार्थना स्थल का निर्माण करवाया था। इसका उद्देश्य यह था कि महल गाँव और आसपास के क्षेत्रों की मिश्रित संस्कृति का प्रतिनिधित्व कर सके और जहाँ सभी धर्मों के लोग पूजा कर सकें। अरुणवीर के बेटे करणवीर कहते हैं, ”मिश्रित संस्कृति (crossing cultures) के लिए सम्मान हमारे खून में है। हमारे दादा स्व. यशवीर सिंह ने मंदिर, मस्जिद, गुरुद्वारा और चर्च के साथ बुद्ध मंदिर (Buddha temple) का भी निर्माण कराया था, ताकि सभी धर्मों के लोग एक साथ बैठकर पूजा कर सकें। करणवीर कहते हैं, ”महल के दरवाजे सभी जरूरतमंदों के लिए हमेशा खुले रहते हैं। हो सकता है इसलिए महल का नाम मदद पड़ गया।

सोनभद्र विधानसभा के MLA भूपेश चौबे ने 5 साल तक अपने क्षेत्र में कोई काम न करवाने पर कान पकड़कर जनता से माँगी माफ़ी

हमारे गाँव में मिश्रित आबादी है। जब यहाँ हवन होता है तो मुस्लिम समुदाय के लोग भी बैठते हैं। हम भी उनकी प्रार्थनाओं में शामिल होते हैं।” अरुणवीर कहते हैं कि उन्हें गर्व है कि वह पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के विजन ‘सबका साथ-सबका विकास’ को हकीकत में प्रतिनिधित्व देते हैं।अरुणवीर कहते हैं, ”मैं हर चुनावी भाषण में इस बात को गर्व से कहता हूँ कि मैं पीएम मोदी के सबका साथ, सबका विकास और सबका विश्वास का पूरी तरह पालन करता हूँ। हम धर्म (Religion) और जाति (caste) से ऊपर उठकर हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई, बौद्ध सभी के लिए काम करते हैं।” 

Leave A Reply

Your email address will not be published.