ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

अखिलेश यादव ने की कुंडा में रैली, भाषण के दौरान बंद हुआ उनका माइक, जताई नाराज़गी

0

प्रतापगढ़। उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 (UP Assembly Elections) को लेकर एक तरफ़ राजनीतिक माहौल (political climate) गरमाया हुआ है। इसी कड़ी में समाजवादी पार्टी (सपा) (Samajwadi Party) के अध्यक्ष अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने गुरुवार को प्रतापगढ़ (Pratapgarh) के कुंडा (Kunda) में रैली (rally) की। भाषण के बीच में अखिलेश यादव का माइक भी बंद हो गया और करीब 3 मिनट तक उन्हें मंच पर चुप खड़े रहना पड़ा। दरअसल, जनसभा (public meeting) के दौरान सपा कार्यकर्ता प्रोटोकॉल (protocol) तोड़कर अखिलेश के मंच तक पहुँच गए। इसी बीच रैली में लगा लाउडस्पीकर (loudspeaker) भी बंद हो गया। क्योंकि सपा समर्थकों ने अनुशासनहीनता का परिचय दिया। सपा प्रमुख अखिलेश यादव जब राजा भैया (Raja Bhaiya) और योगी सरकार (Yogi Government) के खिलाफ एक सुर में वह इस तरह बोलते जा रहे थे कि माइक बंद होने का उन्हें कुछ पल तक एहसास ही नहीं हुआ।

Ukraine में फँसी जौनपुर के कुद्दूपुर की एक छात्रा , माता-पिता ने लगाई PM मोदी से मदद की गुहार

फिर रुके और मंच पर खड़े नेताओं की ओर देखते हुए इशारा किया कि माइक (mike) नहीं चल रहा है। आसपास खड़े नेता भी यहाँ-वहाँ देखने लगे। दूसरे माइक की तलाश की जाने लगी। मंच पर दूसरा माइक पहुँचाने में करीब 3 मिनट का समय लग गया। इस दौरान अखिलेश कभी इशारों में लोगों को नारे लगाने के लिए कहते तो कभी मुस्कुराते हुए नज़र आए। फिर जब दूसरा माइक आया तो उन्होंने कहा, ”मुझे पता था कि माइक ठीक हो जाएगा। माइक ठीक हुआ है तो सब ठीक हो जाएँगे और रहे बचे आपके वोट (vote) से ठीक हो जाएँगे। बताओ वोट से ठीक करने के लिए वोट डालोगे कि नहीं..?

रायबरेली में जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा, जब से UP में BJP की सरकार बनी, विकास दोगुना तेजी से हुआ

हमारे बाबा मुख्यमंत्री जो कह रहे थे कि गर्मी निकाल देंगे, वह ठंडे पड़ गए कि नहीं..? जब से वोट पड़ा है, पहले, दूसरे, तीसरे और चौथे चरण में, बीजेपी के लोग ठंडे पड़ गए हैं। अब कुंडा का जनसमर्थन देख लेंगे तो उनकी भाप निकल जाएगी।” सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा, ”मैं कुंडा के लोगों से विशेष निवेदन करने आया हूँ कि कुंडा के लोगों को हमेशा मंत्री मिलता था। रह गए कि नहीं खाली। पहले भाजपा (BJP) और सपा सरकार (SAPA Government) में मंत्री बन जाते थे इस बार रह गए खाली हाथ। मैंने सुना है इस बार तरह-तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं। धमकी (threat) भी दी जा रही है। डराया भी जा रहा है। इसलिए डरना मत। इस बार कुंडा में गुलशन (Gulshan) ही गुलशन होगा। कुंडा में अन्याय (injustice) की सभी सीमा लांघी गई है। मगर कुंडा में अब बदलाव होगा।”

Leave A Reply

Your email address will not be published.