ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

रेलवे ने किया बड़ा ऐलान, अब देश के 6100 रेलवे स्टेशनों पर मिलेगी मुफ़्त वाई-फाई इंटरनेट सेवा

0

नई दिल्ली। भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने डिजिटिल इंडिया (Digital India) कार्यक्रम के क्षेत्र में एक बड़ी कामयाबी हासिल की है। रेलवे ने देश के कुल 6,100 रेलवे स्टेशनों (railway stations) पर मुफ़्त वाई-फाई इंटरनेट सेवा (Free Wi-Fi internet service) उपलब्ध करवा दी है। इन रेलवे स्टेशनों में से ज़्यादातर स्टेशन देश के दूर-दराज और ग्रामीण इलाकों में हैं।

इस तरह की डिजिटल सेवा का ऐलान 2015 के बजट में किया गया था और आने वाले समय में भारतीय रेलवे देश के 100% स्टेशनों में यह सुविधा उपलब्ध करवाने को तैयार हो रहा है। पहले आधे घंटे के लिए यह सुविधा पूरी तरह से फ्री है और उसके बाद भी अलग-अलग प्लान के तहत बहुत ही मामूली शुल्क देकर रेल यात्री अपने सफर को आनंदित और गतिमान बना सकते हैं। भारतीय रेलवे ने देश के 6,100 रेलवे स्टेशनों पर तेज और मुफ्त वाई-फाई इंटरनेट सुविधा उपलब्ध करवा दी है।

आज से शुरू हो गई हैं यूपी बोर्ड की परीक्षाएँ, जानिए हिंदी का एग्ज़ाम देने के बाद क्या है बच्चों का रिव्यू

यह जानकारी सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (रेलटेल) (Railtail) ने मंगलवार को दी है। रेलवे ने उत्तर रेलवे के लखनऊ डिविजन (Lucknow division) में उबरनी रेलवे स्टेशन पर यह सुविधा देकर इस माइलस्टोन (milestone) को हासिल किया है। उबरनी रेलवे स्टेशन उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के रायबरेली (Raebareilly) जिले में है।

रेल मंत्रालय के अधीन आने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम रेलटेल ने कहा है कि यह जल्द ही देश के सभी रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को मुफ़्त वाई-फाई सुविधा उपलब्ध करवाने जा रहा है, सिर्फ हाल्ट स्टेशनों पर इसकी व्यवस्था नहीं होगी। इस सेवा का उपयोग कर यात्री रेलवे स्टेशनों पर अपना कार्य कर सकते हैं या फिर वीडियो स्ट्रीमिंग (video streaming), फिल्म और गाने समेत सोशल मीडिया (social media) से जुड़ी बाकी सुविधाओं का इस्तेमाल कर सकते हैं।

सीएम योगी के शपथ ग्रहण समारोह में लगेगा बॉलीवुड का तड़का, “द कश्‍मीर फ़ाइल्‍स” के सितारे भी होंगे वहाँ मौजूद

बड़ी बात ये है रिपोर्ट के मुताबिक इन 6,100 रेलवे स्टेशनों में से 5,000 से ज़्यादा ग्रामीण इलाकों (rural area) में हैं, जिनमें पूर्वोत्तर भारत के दूर-दराज इलाकों से लेकर कश्मीर (Kashmir) के 15 रेलवे स्टेशन भी शामिल हैं। भारतीय रेलवे ने 2015 के बजट में ही रेलवे स्टेशनों पर रेल यात्रियों का मुफ़्त वाई-फाई इंटरनेट सुविधा देने की योजना का ऐलान किया था।

रेल यात्रियों को यह सुविधा उपलब्ध करवाने की योजना मोदी सरकार के डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के लक्ष्य को पूरा करने का ही हिस्सा है। यह पहल देश के शहरी और ग्रामीण इलाकों में डिजिटल विभाजन को खत्म करने के लिए है और साथ ही यात्रियों को रेल यात्रा का बेहतर अनुभव देना है। गौरतलब है कि भारतीय रेलवे का रेलटेल रेलवे स्टेशनों पर रेल वायर ब्रांड नाम से यह सुविधा मुहैया करवाता है।

रेलटेल वेबसाइट पर उपलब्ध जानकारी के मुताबिक यात्रियों के लिए यह सुविधा मुफ़्त है और इस दौरान वह पहले 30 मिनट तक प्रति दिन 1 एमबीपीएस स्पीड का इस्तेमाल कर सकते हैं। लेकिन, रेलवे स्टेशनों पर इससे ज़्यादा हाई स्पीड के इस्तेमाल के लिए यूजर या पैसेंजरों को एक प्लान चुनकर नाम मात्र के शुल्क का भुगतान करना होगा।

यह प्लान 10 रुपये रोज़ाना (34 एमबीपीएस की स्पीड से 5जीबी डेटा) से 75 रुपये 30 दिन (34 एमबीपीएस की स्पीड से 60 जीबी डेटा) तक के लिए है। इसके अतिरिक्त जीएसटी (GST) देना होगा। रेलटेल के मुताबिक भुगतान के लिए नेट बैंकिंग (net banking), क्रेडिट कार्ड (credit card), वॉलेट (wallet) के विकल्प हैं, जिसका इस्तेमाल करके ऑनलाइन प्लान खरीदे जा सकते हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.