ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

UP बोर्ड स्टूडेंट्स अब लेंगे इंटर्नशिप प्रोग्राम में प्रतिभाग, सीएम योगी की अध्यक्षता में हुआ फैसला

0

नई दिल्ली। नई शिक्षा नीति 2020 (New Education Policy) के तहत स्टूडेंट्स के स्किल डेवलपमेंट (skill development) पर फोकस किया जा रहा है। इससे भविष्य में उनके लिए स्किल बेस्ड जॉब (skill based job) ढूँढना काफी आसान हो जाएगा। इसके लिए एजुकेशन पैटर्न (Education pattern) में कई तरह के बदलाव किए जा रहे हैं। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के स्कूलों का स्टडी पैटर्न भी बदला जा रहा है।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) की अध्यक्षता में पढ़ाई को लेकर कई अहम फैसले लिए गए हैं। इसके तहत स्टूडेंट्स में स्कूली पढ़ाई के दौरान ही जॉब मार्केटिंग (Job marketing) की समझ विकसित की जाएगी। अब उनके लिए इंटर्नशिप (internship) करना अनिवार्य किया जाएगा। इससे भविष्य में उन्हें करियर (career) बनाने में आसानी होगी।

वैश्वीकरण के दौर में बौद्धिक संपदा अधिकार का महत्व

वहीं, 10वीं की बोर्ड परीक्षा के पैटर्न (UP Board Exam Pattern) को भी बदला जा रहा है। यूपी (UP) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में फैसला लिया गया है कि अब से 9वीं और 11वीं के स्टूडेंट्स इंटर्नशिप प्रोग्राम (internship program) में हिस्सा लेंगे। इससे उन्हें जॉब मार्केट की बेहतर जानकारी मिलेगी और भविष्य में उनके लिए करियर बना पाना आसान हो जाएगा।

अभी तक सिर्फ कॉलेज स्टूडेंट्स (college students) ही इंटर्नशिप के पात्र होते थे। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद के मुताबिक, अगले साल यानी 2023 से 10वीं की परीक्षा (UP Board 10th, 12th Exam 2023) एमसीक्यू पैटर्न (MCQ pattern) पर होगी। रिपोर्ट्स के अनुसार, 10वीं की परीक्षा में 30 प्रतिशत सवाल एमसीक्यू पैटर्न पर आधारित होंगे। इसके लिए छात्रों को ओएमआर शीट (OMR sheet) प्रदान की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.