ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

UP में बिजली कटौती को लेकर अखिलेश यादव ने साधा सरकार पर निशाना, कहा 20 नहीं बस 4 घंटे ही दे दो बिजली

0

लखनऊ। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में बिजली कटौती (Power Crisis) को लेकर पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव (Akhilesh Yadav) ने योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath government) पर निशाना साधा है। अखिलेश ने कहा है कि सरकार का 18-20 घंटे बिजली आपूर्ति का दावा (Claim) खोखला साबित हो रहा है और गाँवों में चार घंटे भी बिजली (electricity) नहीं आ पा रही है। सपा (SAPA) के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आरोप (allegation) लगाया कि उत्तर प्रदेश में अघोषित बिजली कटौती से हाहाकार मचा हुआ है।

BHU के वीसी ने मुस्लिम स्टाफ़ को दी इफ़्तार पार्टी, छात्रों ने कहा यह नई परंपरा शुरू करना ठीक नहीं

गर्मी बढ़ती जा रही, लेकिन राज्य सरकार (State Government) बिजली की पर्याप्त व्यवस्था नहीं कर पा रही है। अखिलेश ने कहा कि भाजपा (BJP) के दूसरे कार्यकाल में बिजली मंत्री बदल गये, लेकिन दुर्दशा नहीं बदली। यादव ने कहा कि सरकारी बयानों में ग्रामीण क्षेत्रों में 18 से 20 घंटे बिजली आपूर्ति का दावा किया जा रहा है जबकि महज़ चार घंटे ही बिजली मिल रही है, कई स्थानों पर तो पूरी रात अंधेरा रहता है। यादव ने कहा कि बिजली कटौती से बुनकरों (weavers) का धंधा बुरी तरह प्रभावित हो रहा है। संत कबीर नगर (Sant Kabir Nagar) में बिजली नहीं मिलने से बिजली चालित हथकरघे ठप्प हो रहे हैं।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय पर DM ने कराया स्टिंग ऑपरेशन, 5 हज़ार घूस लेते पकड़ा गया लिपिक

इससे बुनकर आर्थिक संकट (economic crisis) से जूझ रहे हैं। वे आधे अधूरे तैयार कपड़ों को लेकर परेशान हैं। बिजली संकट के चलते व्यापारिक गतिविधियाँ (business activities) भी बुरी तरह से प्रभावित हो रही हैं। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश में न केवल ग्रामीण (rural) अपितु नगरीय क्षेत्रों (urban areas) में भी बिजली की जबरदस्त कटौती हो रही है। सपा प्रमुख ने आरोप लगाया कि भाजपा सरकार ने बिजली उत्पादन के लिए कोई काम नहीं किया, एक भी नया बिजली संयंत्र (power plant) स्थापित नहीं किया, बिजली का उत्पादन नहीं बढ़ाया।

उन्होंने आरोप लगाया कि पाँच साल के शासन (Governance) में भाजपा ने उत्तर प्रदेश की हालत इतनी जर्जर कर दी है कि बिजली उत्पादन की कई इकाइयाँ बंद पड़ी हैं। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath) ने सोमवार को कहा था कि गर्मी के मौसम में बिजली की सर्वाधिक आवश्यकता होती है, ऐसे में रोस्टर के अनुसार निर्बाध विद्युत आपूर्ति होनी चाहिए। मुख्यमंत्री ने सोमवार को निर्देश दिया था कि इसके लिए जरूरी व्यवस्था तुरंत की जाए।

बिजली की अबाधित आपूर्ति के लिए आवश्यकतानुसार अतिरिक्त बिजली की व्यवस्था की जाए। उन्होंने कहा कि ट्रांसफॉर्मर (transformer) खराब होने अथवा तार आदि के टूटने की स्थिति में बिना देरी समस्या का समाधान किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऊर्जा विभाग (Department of Energy) व पावर कॉरपोरेशन (power corporation) यह सुनिश्चित करें कि पूर्व निर्धारित रोस्टर (preset roster) के अनुरूप सभी क्षेत्रों में बिजली की आपूर्ति हो।

Leave A Reply

Your email address will not be published.