ATI NEWS
पड़ताल हर खबर की ...

बीमार बच्ची को ठेले पर लादकर जौनपुर जिला अस्पताल पहुँची बेबस माँ, इलाज के दौरान हुई मौत

0

जौनपुर। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के जौनपुर सदर (Jaunpur Sadar) में स्थित जिला अस्पताल (district hospital) में बुधवार को बेहद विचलित कर देने वाली तस्वीर देखने को मिली। इस तस्वीर को जिसने देखा उसका दिल पसीज गया। यहाँ मजबूर माँ अपनी मासूम बच्ची को गंभीर अवस्था में इलाज (treatment) के लिए आनन-फ़ानन में ठेले पर लादकर जिला अस्पताल पहुँची। यहाँ बाल रोग विशेषज्ञ (pediatrician) ने उस मासूम को देखने के बाद प्राथमिक उपचार (first aid) किया और फिर बेहतर उपचार के लिए वाराणसी (Varanasi) रेफ़र कर दिया। हालांकि डॉक्टर जितनी देर में रेफ़र (refer) के कागज़ात बनाते तब तक बच्ची ने दम तोड़ दिया।

ज्ञानवापी मस्जिद प्रबंधन की याचिका पर आज सुप्रीम कोर्ट करेगा सुनवाई

अपनी मासूम बच्ची को यूँ मरता देख उसके माँ-बाप करुण विलाप (mournful lamentation) करने लगे। थोड़ी देर उन्होंने खुद को संभाला और फिर उसी ठेले पर शव (dead body) लादकर अपने घर को चले गए। इस घटना की तस्वीर सोशल मीडिया (social media) पर वायरल (viral) हो गई, जिसके बाद सीएमओ (CMO) ने मामले को संज्ञान में लेते हुए जाँच (investigation) के आदेश दे दिए हैं।

ज्ञानवापी मस्जिद प्रकरण में मुस्लिम पक्ष ने आपत्ति याचिका दायर करने के लिए माँगा दो दिन का समय

उन्होंने कहा कि अस्पताल के जो भी अधिकारी (officers) दोषी पाए जाएँगे उन पर कार्रवाई की जाएगी। प्राप्त जानकारी के मुताबिक, वायरल वीडियो जिले के लाइन बाजार थाना क्षेत्र (Line bazaar police station area) के मातापुर (Matapur) का बताया जा रहा है। यहाँ रहने वाली महिला रेखा देवी की सात महीने की बेटी नीतू को साँस की परेशानी थी। मंगलवार 17 मई को बच्ची की हालत काफी बिगड़ गई, जिसके बाद रेखा अपने पति सुरेश कुमार पटेल के ठेले पर अपनी बच्ची के साथ अस्पताल पहुँची।

जिला अस्पताल में डॉक्टरों ने बच्ची की गंभीर स्थिति देखते हुए उसे प्राथमिक उपचार दिया। हालांकि इस दौरान बच्ची की हालत गंभीर (condition critical) होती गई, जिसे देखते हुए डॉक्टरों ने उसे वाराणसी रेफ़र कर दिया। वे बच्ची को रेफ़र के लिए कागज बना ही रहे थे कि उस मासूम ने दम तोड़ दिया। बच्ची की मौत (death) के बाद बदहवास माँ-बाप उसका शव उसी ठेले पर लादकर विलाप करते हुए अपने घर को चले गए। एक तरफ प्रदेश सरकार (State Government) द्वारा स्वास्थ्य व्यवस्थाओं (health facilities) को पटरी पर लाने के लिए जोर-शोर से मुहीम चलायी जा रही है।

जिसके लिए पूरे प्रदेश भर के स्वास्थ्य विभाग (health department) व अस्पतालों में स्वास्थ्य मंत्री ब्रजेश पाठक द्वारा साधारण व्यक्ति के रूप में औचक निरीक्षण (Surprise inspection) भी किया जा रहा है।वहीं दूसरी तरफ जौनपुर के जिला अस्पताल से जो वीडियो वायरल हो रहा है, उसे देखने के बाद लोग चिकित्सा विभाग पर सवाल उठा रहे हैं। वहीं अस्पताल की सीएमओ डॉक्टर लक्ष्मी का कहना है मामले में जाँच की जा रही है, जाँच में जो दोषी पाया जाएगा उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

Leave A Reply

Your email address will not be published.