The ATI News
News Portal

अलीबाबा को लगा जुर्माना का झटका,7 साल में पहली बार हुआ नुकसान।

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

अलीबाबा ग्रुप होल्डिंग जो चीन की सबसे बड़ी इ- कॉमर्स कंपनी है न 2014 के बाद पहली बार किसी तिमाही नुकसान दर्ज किया है। हाल ही में कोणी पे लगा बड़ा जुर्माना इस वजह से कंपनी के अमेरिका में लिस्ट शेयर भी 3% तक टूट गए हैं।

 

कंपनी को 1.19 अरब डॉलर का घाटा  अलीबाबा ने गुरुवार को सूचना दी थी कि 31 मार्च को समाप्त हुई चौथी तिमाही में उसे 1.19 अरब डॉलर (करीब 87.2 अरब रुपये) का ऑपरेटिंग लॉस हुआ है।अगर चीन की मुद्रा में गणना की जाए तो ये 7.66 अरब युआन का नुकसान है। यह 7 साल में पहली बार है जब कंपनी को किसी तिमाही में ऑपरेटिंग लॉस हुआ है। इसके चलते अमेरिका में सूचीबद्ध कंपनी के शेयरों में 3% की गिरावट दर्ज की गई है।

 

2022 तक अच्छी आय का अनुमान कोविड महामारी के बाद लोगों का रूझान ऑनलाइन शॉपिंग की तरफ बढ़ा है

सोना चांदी के दाम में आई गिरावट ,शादी ब्याह वालों के लिए खुशखबरी ।

ऐसे में कंपनी का अनुमान है कि 2022 तक उसकी वार्षिक आय में तेजी से बढ़ोतरी होगी। कंपनी ने मार्च 2022 के अंत तक 930 अरब युआन (करीब 10,560 अरब रुपये) की वार्षिक आय का अनुमान लगाया है। मजबूत वृद्धि की उम्मीद के बावजूद कंपनी ने ऑपरेटिग लॉस दर्ज किया है।

 

चीन के लगाए भारी जुर्माने का असर कंपनी के नुकसान में रहने की बड़ी वजह चीन के बाजार नियामक का उस पर 2.8 अरब डॉलर (करीब 205 अरब रुपये) का जुर्माना लगाना रहा है। चीनी नियामक ने कंपनी के एकाधिकारवादी नीतियां अपनाने के खिलाफ ये जुर्माना लगाया। कंपनी पर आरोप था कि वह उसके प्लेटफॉर्म पर सामान बेचने वाले सेलर्स को अन्य प्लेटफॉर्म पर जाने से रोकने के लिए हथकंडे अपनाती है। इसके बाद रेग्युलेटरी निकाय ने कंपनी पर ‘एंटी-मोनोपॉली’ नियमों के तहत कार्रवाई करते हुए ये जुर्माना लगाया था।

अंकिता लोखंडे के फैन्स के लिए खुशखबरी, बहुत जल्द ही ‌अपने प्रेमी ‌विक्की जैन‌ से रचाने ‌वाली हैं ‌शादी

हालांकि बीते कुछ समय से अलीबाबा के प्रमुख जैक मा के साथ चीनी सरकार के रिश्ते सही नहीं होने की भी खबरें हैं। कुछ समय पहले अलीबाबा समूह से जुड़े एंट ग्रुप के आईपीओ पर भी चीन के नियामकों ने रोक लगा दी थी. एंट ग्रुप ने 37 अरब डॉलर (करीब 2,711 अरब रुपये) का आईपीओ लाया था। लेकिन ऐन मौके पर चीन के नियामक ने कंपनी के आईपीओ को निलंबित कर दिया और उसके शेयर लिस्ट नहीं हो सके।

 

इसके चलते कंपनी को आईपीओ से जुटाई रकम को वापस भी करना पड़ा था। एंट ग्रुप के आईपीओ को दुनिया के सबसे बड़े आईपीओ में से एक था।

हालांकि अगर पूरा देखा जाए तो जनवरी-मार्च तिमाही में कंपनी की आय बढ़कर 187.4 अरब युआन (करीब 2,133.15 अरब रुपये) रही है।

 

Leave A Reply

Your email address will not be published.