The ATI News
News Portal

खुशखबरी: कोरोना वायरस को खत्म करने में कारगर “AAYUDH Advance” दवा अब आसानी से मिलेगी बाज़ार में

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

दुनियाभर में कोरोना वायरस का शिकार हो रहे लोगों की तादात दिन-प्रतिदिन बढ़ती ही जा रही है जो बेहद चिंताजनक है। लोग समय पर ऑक्सीज़न न मिल पाने के कारण बुरी तरह से अपनी जान गँवा रहे हैं। आपको बता दें कि हर दिन मौत का आंकड़ा जिस कद्र बढ़ रहा है वह सबको चौंका के रख देने वाला है। मगर इसी बीच एक राहत की खबर मिली जिसमें ‌अहमदाबाद के दो सरकारी अस्पतालों में “आयुध एडवांस” नामक दवा का कोरोना के मरीजों पर टेस्ट किया गया और नतीजा यह निकला की वे 4 दिनों के भीतर ही कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने में मददगार साबित हुई है शोधकर्ताओं ने बताया कि जिन मरीजों पर इस दवा का ट्रायल किया गया उनकी सेहत में काफ़ी हद तक सुधार देखने को मिला, जिसमें उन्हें सर्दी, जुकाम व बुखार से भी बहुत राहत मिली है।

नई दिल्ली । जल्दी ही यहीं बनेगी ​लिथियम आयन बैटरी, जानिए क्या क्या है तैयारी

“कंटेम्परेरी क्लिनिकल ट्रायल कम्युनिकेशन” मैग्ज़ीन में छपी एक रिसर्च के मुताबिक AAYUDH कोरोना के इलाज में एडवांस स्टैंडर्ड ऑफ़ केयर पर खरी उतरी है‌। यह रिसर्च नेशनल सेंटर फ़ॉर बायोटेक्नोलॉजी इन्फॉर्मेशन, नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ हेल्थ व अमेरिका की वेबसाइट पर भी प्रकाशित हुई है। बता दें कि आयुध एडवांस का अभी तक कोई भी साइड इफ़ेक्ट देखने को नहीं मिल रहा है जो बेहद सुकून देने वाला है। आयुध एडवांस का इंसानों पर पहला ट्रायल अक्टूबर 2020 में श्रीमती एनएचएल नगर मेडिकल कॉलेज SVPIMSR , एलिसब्रिज , अहमदाबाद में किया गया था।

Acupressure Trick से बढ़ेगा Immunity Power : प्रो० अमर प्रताप सिंह

व दूसरा टेस्ट जनवरी 2021 में GMERS मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल, सोला, अहमदाबाद में किया गया था। पहले रिसर्च के दौरान माइल्ड Symptoms वाले COVID-19 रोगियों पर इसका प्रभाव परखा गया जो बहुत ही संतोषजनक रहा और संक्रमित मरीजों को इससे काफ़ी राहत हुई है। इस दवा का उपयोग 50,000 से अधिक लोगों द्वारा किया जा रहा है और परिणाम अच्छा ही देखने को मिल रहा है। कोरोना मरीजों के लिए AAYUDH Advance दवा बेहद कारगर साबित हो रही है और साथ ही परिवार के अन्य सदस्यों के लिए AAYUDH Maintain दवा को डॉक्टरों ने उपयोग में लेने की सलाह दी है।

पैदल अपने घर को लौटने को मजबूर राहगीर

Leave A Reply

Your email address will not be published.