Spread the love

भारतीय वायु सेना के तेवर हुए सख्त,चीनी सीमाओं पर अब राफेल लड़ाकू विमान भरेंगे उड़ान

Rafel

PC : Google

 

शुभेन्द्र धर द्विवेदी|19/07/2020

चीन के साथ बढ़ते तनाव के मद्देनज़र भारत अब सीमावर्ती इलाकों में मिसाईलों और टैंकरों के साथ एयरक्राफ्टस की भी भी तैनाती बढाने पर विचारकर रहा है। एयर चीफ मार्शल आरकेएस भदौरिया टॉप एयरफोर्स कमांडरों के साथ अहम बैठक करने जा रहे हैं। दो दिनों की इस अहम बैठक में वास्तविक नियंत्रण रेखा पर मौजूदा हालात का जायजा लिया जाएगा।

इस बैठक में जुलाई के अंत तक राफेल विमानों को वायुसेना में ऑपरेशनल स्तर पर लाने की प्रक्रिया पर भी विचार किया जा रहा है। अबतक के आधुनिक लड़ाकू विमानों में से एक राफेल के एयरफोर्स में शामिल होने से भारतीय वायुसेना को पड़ोसी देशों के मुकाबले बढ़त मिलेगी।

राफेल दुश्मनों के हर एक्शन का रिएक्शन देने के लिए आधुनिक तकनीक से लैस है। वायु सेना देश के उत्तरी बॉर्डर पर सुखोई-30 और मिराज- 2000 के साथ राफेल को भी तैनात करने पर विचार कर रही है।

यह भी पढ़ें :

भारतीय सेना ने फेसबुक, इंस्टाग्राम और पबजी समेत 89 ऐप्स पर लगाया बैन

सीमाओं पर लड़ाकू विमानों का पहरा

वायुसेना की इस बैठक में भारत के साथ लगी चीन की सीमाओं पर हो रही हर छोटी बड़ी गतिविधियीं की समीक्षा की जाएगी।रिपोर्ट के मुताबिक दो दिनों की ये बैठक 22 जुलाई से प्रस्तावित है। वहींभारतीय सेन के लड़ाकू विमान सिमा से सटे इलाकों में ऑपरेशन कर स्थिति का जायजा ले रहे है।

यह भी पढ़ें :

सुशांत की नई फिल्म दिल बेचारा का ट्रेलर हुआ रिलीज, जानिए कैसे फ्री में देख पाएंगे फिल्म…


Spread the love

Related Article

DOWNLOAD APP

THE ATI NEWS APP

THE ATI NEWS APP

THE ATI MAGAZINE S4

Litmted Time Offer

           

FOLLOW US

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

The ATI News

Archivies

Social