The ATI News
News Portal

भारत में लगा 21 दिनों का अबतक का सबसे बड़ा लॉक डाउन

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

भारत में लगा 21 दिनों का अबतक का सबसे बड़ा लॉक डाउन

भारत में लगातार कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के मद्देनजर आज भारत के प्रधानमंत्री ने एक बार फिर देश को संबोधित किया। अपने संबोधन में उन्होंने भारत में 21 दिनों के लॉक डाउन की घोषणा की।

विश्व का सबसे बड़ा लाकडाउन आज रात 12 बजे से

आज यानी मंगलवार रात 12 बजे से यह आदेश लागू कर दिया जाएगा। इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 19 मार्च को रात 8 बजे राष्ट्र को संबोधित किया था तब भी पीएम मोदी ने अपने संबोधन में कोरोना वायरस पर बात की थी और 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का आह्वाहन किया था।भारत में लगा 21 दिनों का अबतक का सबसे बड़ा लॉक डाउन

इस भयावह महामारी से बचने के लिए प्रधानमंत्री ने सोशल डिस्टेंसिंग को एकमात्र उपाय बताया। उन्होंने कहा कि हमें एक साथ इस महामारी से जुट के सामना करना होगा और अपना पूरा सहयोग देना होगा।हमें चीन,इटली,ईरान,अमेरिका जैसे देशों से सीख लेने की जरूरत है। जहां इस महामारी ने एक भयावह रूप ले लिया है।

जान है तो जहां है ,”अब भारत 21 दिन के लिए लाकडाउन

प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन में लोगों से अपील की कि वे घरों से किसी भी कीमत पर न निकलें और अगले 21 दिनों के लिए घरों में कैद कर लें। उन्होंने कहा कि अगर आप 21 दिन घरों से बाहर निकले तो देश 21 साल पीछे चला जाएगा।कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में अगले 21 दिनों तक अपने अपने घरों में लक्ष्मण रेखा खींचना होगा।

आने वाले 21 दिन हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं, हेल्थ एक्सपर्ट्स की मानें तो, कोरोना वायरस की संक्रमण सायकिल तोड़ने के लिए कम से कम 21 दिन का समय बहुत महत्वपूर्ण है।

प्रधानमंत्री ने कहा अगर लापरवाही जारी रही तो भारत को इसकी बहुत बड़ी कीमत चुकानी पड़ सकती है। यह कीमत कितनी बड़ी होगी इसका अंदाजा लगाना मुश्किल है। देश में दो दिनों से कई भागों में लॉकडाउन कर दिया गया है। राज्य सरकार के इन प्रयासों को गंभीरता से लेना चाहिए। यह एक तरह से कर्फ्यू ही है।

जनता कर्फ्यू से जरा ज्यादा सख्त है। कोरोना महामारी के खिलाफ निर्णायक लड़ाई के लिए यह कदम बहुत आवश्यक है।
प्रधानमंत्री ने कोरोनावायरस की लड़ाई के लिए 15000 करोड़ के बजट की भी घोषणा की जिससे देश के विभिन्न अस्पतालों में ज़रूरत कि सारी सुविधा जैसे आइसोलेटेड वार्ड, वेंटिलेटर,आईसीयू आदि की पूर्ति की जाएगी।
गौरतलब है कि भारत में कोरोनावायरस के अब तक लगभग 550 मामले सामने आए हैं वहीं इस वायरस से लगभग 10 लोगों की जान भी जा चुकी।

सौरव दादा ने कोलकाता की तस्वीरें शेयर की और भावुक बात बोल दी

मिलए कलयुग के महामानव से

Leave A Reply

Your email address will not be published.