किसान

किसान एक वरदान

Harshit Srivastav

किसान
जय जवान जय किसान जय विज्ञान PC: GOOGLE

महामारी के इस दौर में लोगों की सबसे बड़ी जरूरत भोजन है वह भी एक बार नहीं बल्कि तीन बार चाहे वह अमीर हो या गरीब। भोजन मनुष्य की बुनियादी आवश्यकता है covid-19 महामारी के दौर में हमें अटल बिहारी वाजपेई जी का नारा जय जवान जय किसान जय विज्ञा याद आ रहा है और इस समय में यह सिद्ध हो गया है कि भारतीय अर्थव्यवस्था का मुख्य आधार कृषि है।

एक बार कल्पना करें कि अगर इस कठिन समय में देश के पास पर्याप्त अनाज ना हो तो कैसे अनिश्चितता आ जाएगी । हमारे देश के किसान तमाम तरह की कठिनाइयों के बावजूद मैदान में डटे हुए हैं कुछ निजी संस्थानों में कार्य करने वाले लोगों की नौकरियां चली गई जिससे उनका रुझान खेती की तरफ बढ़ा हुआ है अब बुजुर्गों के साथ नौजवान भी खेती-बाड़ी में रुचि लेने लगे हैं। डाटा के अनसार 2019 में 27500 हेक्टेयर भूमि में मक्का की बिजाई की गई जबकि साल 2020 में बिजाई का क्षेत्र बड़ा है कृषि विभाग ने 30500 हेक्टेयर बिजाई का अनुमान लगाया है केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर जी ने भी बताया

1)इस साल 300000 टन गेहूं उपार्जन हुआ है।
2) ग्रीष्म ऋतु की बुवाई 45% अधिक हुई है।
3) कृषि अवसंरचना में सुधार आएगा।

उपयुक्त डाटा से मालूम पड़ता है कि कृषि क्षेत्र में रुझान बढ़ा है। अंततः हम इस बात को कहने से जरा भी संकोच नहीं करेंगे कि किसान हमारे लिए वरदान साबित हो रहे हैं तथा जिस प्रकार हमारी जवान सीमा पर डटे हुए हैं उसी प्रकार हमारी किसान अपने खेतों में डटे हुए हमें उनके सम्मान में कोई कमी नहीं करना चाहिए यह भी हमारे कोरोना वारियर्स हैं।

यह भी पढें : गंगा के बड़ते जलस्तर से मिर्ज़ापुर के सब्जी किसान परेशान

9 thoughts on “जय जवान जय किसान जय विज्ञान”
  1. Very authentic article ??. Is topic pe charchaa krna bhut hi jruri tha.. hmara aane wala bhvishya kishaan pe hi nirbhr h… .. want to more more articles like this one. ??

  2. Very authentic article ??. Is topic pe charchaa krna bhut hi jruri tha.. hmara aane wala bhvishya kishaan pe hi nirbhr h… .. want to see more more articles like this one. ??

  3. अति उत्तम उन घरो में जहाँ मिट्टी के घड़े रहते हैं, कद में छोटे हो, मगर लोग बड़े रहते हैं.

  4. अति उत्तम उन घरो में जहाँ मिट्टी के घड़े रहते हैं, कद में छोटे हो, मगर लोग बड़े रहते हैं

  5. एकदम सही बात इस समय हमारे किसान कोरोना योध्दा हैं ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *