The ATI News
News Portal

जौनपुर: सपा नेता बाला यादव हत्याकांड की गुत्थी को पुलिस ने सुलझाया, चार आरोपियों की हुई गिरफ़्तारी

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

जौनपुर। सपा सभासद व प्लॉटर बाला लख़न्दर हत्याकांड का खुलासा आज बुधवार को जीआरपी पुलिस ने कर दिया है। पुलिस ने चार हत्यारोपियों को गिरफ़्तार किया है। उनके पास से हत्या में प्रयोग की गई दो पिस्टल, 4 जिंदा कारतूस बरामद हुआ है।


मालूम हो कि बीते 1 फरवरी को रात करीब साढ़े आठ बजे अज्ञात बदमाशों ने सिटी स्टेशन के प्लेटफ़ॉर्म नम्बर एक पर ताबड़तोड़ गोलियाँ बरसाकर सैदनपुर गाँव के निवासी व भू-माफिया बाला लख़न्दर यादव को ताबड़तोड़ गोलियाँ बरसाकर मौत के घाट उतार दिया था।

बिस्तर गंदा करने पर चाची ने पाँच साल के बच्चे को उतारा मौत के घाट, पिता के साथ मिलकर शव को दफ़नाया

परिवार वालों की तहरीर पर पुलिस ने मड़ियाहूँ के ब्लाक प्रमुख समेत 3 लोगों के ख़िलाफ़ हत्या का मुकदमा दर्ज करके जाँच शुरू किया था। पुलिस की जाँच में बाला को मौत की नींद सुलाने वाला सैदनपुर गाँव के निवासी ओमचंद्र गुप्ता उर्फ़ पवन, उमेश गौड़, मडियाहूँ थाना क्षेत्र के रामपुरनदी गाँव के निवासी रितेश सिंह और महाराष्ट्र के शोला पुर के जयदीप प्रकाश गायकवाड़ का नाम प्रकाश में आया।

क्या ठाकुर तिलकधारी सिंह के नाम पर होना चाहिए इस मार्ग का नाम ?

एसपी जीआरपी ने बताया कि ग्राम पंचायत चुनाव के बाद मृतक बाला यादव की हत्या सैदनपुर में हुई थी। उसके बाद आरोपी पवन गुप्ता के भाई को मुंबई से बुलाकर उसकी निर्मम हत्या कर दिया। इसी प्रतिशोध में पवन ने मुंबई में रह रहे अपने साथियों के साथ जौनपुर आकर बाला यादव को मार डाला।

आख़िर कौन है यह शख़्स जिसने लाखों रूपयों के नोट जलाकर दूर भगाई ठंडी ??

Leave A Reply

Your email address will not be published.