The ATI News
News Portal

5 जून, विश्व पर्यावरण दिवस (वर्ल्ड एनवायरमेंट डे)

1

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

5 जून, विश्व पर्यावरण दिवस (वर्ल्ड एनवायरमेंट डे)

 

S.Rai | 05-06-2020

 

5 जून, विश्व पर्यावरण दिवस
Photo Google

जैसा कि हम सबको पता है कि पर्यावरण का मुद्दा आजकल बहुत ही बड़ा मुद्दा है और उसको सुलझाना हम मनुष्यों का सबसे बड़ा कर्तव्य है। हमारे पर्यावरण की दशा हर दिन बिगड़ती ही जा रही है जिसकी सुरक्षा के लिए हमें पर्यावरण के अनुकूल कार्य करने की आवश्यकता है। पर्यावरण से संबंधित सभी परेशानियों को दूर करने के लिए ज़रुरत है प्रत्येक व्यक्तियों में इसकी संपूर्ण जानकारी होना जिसकी सहायता से हर कोई पर्यावरण को सुरक्षित रखने में जागरूक हो।

 

कब हुई पर्यावरण दिवस मनाने की घोषणा…???

विश्व पर्यावरण दिवस की घोषणा युनाइटेड नेशन्स (UN) के द्वारा मानव पर्यावरण के संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन के अवसर पर 1972 में हुई थी। लेकिन इस कार्यक्रम को प्रतिवर्ष मनाने की शुरुआत 5 जून सन् 1973 से हुई। आम जनमानस को पर्यावरण के मुद्दों से जागरूक करवाना ही इस दिवस को मनाने का मुख़्य उद्देश्य रहा है। सुंदर, स्वच्छ एवं सुरक्षित भविष्य पाने के लिए आवश्यकता है लोगों को पर्यावरण के प्रति पूरी निष्ठा से अपनी ज़िम्मेदारियों को निभाने की और अपने आसपास के वातावरण को हमेशा शुद्ध रखने की। इस दिवस को ‌मनाते हुए आज हमें 47 वर्ष पूर्ण हो‌ चुके हैं किंतु चिंताजनक विषय यह है कि आज भी हम पूरी तरह से अपने वातावरण व पर्यावरण को सुरक्षित रखने में ‌असफल ही रहे हैं।

 

किस प्रकार मनाया जाता है यह खास दिन…??

 

पर्यावरण दिवस का वार्षिक कार्यक्रम संयुक्त राष्ट्र के द्वारा अनाउंस की गई किसी ” स्पेशल थीम या सब्जेक्ट ” पर बेस्ड होता है। हर साल यह फ़ंक्शन अलग-अलग शहरों के द्वारा आयोजित किया जाता है और इसके तहत पूरे हफ़्ते इंटरनेशनल एग्ज़िबीशन लगाया जाता है जिसमें राष्ट्र के लोगों को पर्यावरण संरक्षण के बारे में विशेष जानकारियाँ दी जाती हैं और वातावरण की सुरक्षा के लिए प्रोत्साहित भी किया जाता है। पर्यावरण दिवस के इस विशेष अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में वहाँ मौजूद लोगों को विभिन्न मनोरंजक क्रियाओं में भाग लेने का मौका मिलता है। जिसमें से कुछ मुख्य हैं, जैसे–सड़क पर रैलियां निकालना, भाषण देना, नाटक का आयोजन, पैराग्राफ़ राइटिंग, चित्रकला प्रतियोगिता, डीबेट का आयोजन एवं निबंध-लेखन प्रतियोगिता इत्यादि।

इस दिवस को ‌मनाने के क्या-क्या हैं फ़ायदे..??

 

जैसा कि हम सबको पता है कि पृथ्वी का तापमान तेज़ी से बढ़ता जा रहा है और धरती पर फ़ैली हरियाली को बुरी तरह से प्रभावित कर रहा है। दूसरी तरफ़ अगर हम देखें तो प्रदूषण के कारण जीव-जंतुओं की ज़िन्दगियाँ भी ख़तरे में पड़ चुकी हैं। जानवरों की कई ऐसी प्रजातियाँ सामने आई हैं जो पृथ्वी के प्रदूषित वातावरण की वजह से साँस लेने में असमर्थ रही हैं और अपना दम तोड़ चुकी हैं। इतनी घनी मात्रा में पशुओं के मृत होने के कारण बहुत से ऐसे जंतु-जानवर हैं जो पूर्ण रूप से विलुप्त भी हो चुके हैं।

 

दबंग गर्ल सोनाक्षी सिन्हा ने इंसानों को बताया जानवर से भी बदतर

 

अब यह विषय बेहद चिंताजनक हो चुका है कि यदि जानवर अशुद्ध वातावरण में अपनी जान नहीं बचा पा रहे हैं तो हम इंसानों की ज़िंदगियों का कितनी देर ठिकाना रहेगा ?? इसके पश्चात् इस बात का निष्कर्ष यह निकला कि अगर हमें अपनी जान की सुरक्षा करनी है तो हम मनुष्यों को ही इसका जिम्मा उठाना होगा और किसी भी हाल में पर्यावरण को सुरक्षित रखना होगा तभी हम एक बेहतर ज़िन्दगी जी सकेंगे। और यही वजह है कि हर साल 5 जून को विश्व के तकरीबन 100 देशों में विश्व पर्यावरण दिवस ( World Environment Day ) पर्यावरण की सुरक्षा एवं संरक्षण हेतु मनाया जाने लगा।

” अतः हम सब देशवासियों का यह कर्तव्य बनता है कि हम आज ही के दिन प्रतिवर्ष एक पेड़ लगाकर पर्यावरण को सुरक्षित रखने में अपना पूर्ण रूप से योगदान दें..।।। “

 

 

#AllLivesMatter लिखने के बाद सारा अली ख़ान ने क्यों किया पोस्ट डिलीट, लोगों ने किया जमकर

 

 

देखिए आखिर कैसे दिखते थे मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ अपने जवानी के दिनों में

 

 

अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद और बीबी को हुआ कोरोना, कराची के मिलिट्री अस्पताल में भर्ती

 

 

पहले हेरोइन, अब मैच फिक्सिंग में फसे ये इंटरनेशनल क्रिकेटर

 

 

गुजरात कांग्रेस में बड़ी टूट, राज्यसभा चुनाव से पहले कितने विधायकों ने छोड़ा पार्टी का साथ।

 

 

गुजरात कांग्रेस में बड़ी टूट, राज्यसभा चुनाव से पहले कितने विधायकों ने छोड़ा पार्टी का साथ।

 

 

क्या आप ने गधी के दूध के पनीर के बारे में सुना है,कीमत जान दंग रह जाएंगे आप

 

 

गृह मंत्रालय ने 10 साल के लिए 960 विदेशी तबलीगियों को किया ब्लैकलिस्ट।

 

 

बचपन की याद वाली आपकी ये साइकिल अब नहीं दिखेगी कभी ,देखिए सुपरफास्ट 5

1 Comment
  1. Pragya Singh says

    ?

Leave A Reply

Your email address will not be published.