The ATI News
News Portal

जानिए कब शुरू होगा काम नोएडा के जेवर international Airport का,PM मोदी रखेंगे नीव

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

नोएडा के जेवर में बनने वाले उत्तर प्रदेश के सबसे बड़े इंटरनैशनल एयरपोर्ट का निर्माण कार्य अगस्त में शुरू होगा। एयरपोर्ट का पहला चरण 2024 तक बनकर तैयार हो जाएगा। एयरपोर्ट का निर्माण कार्य शुरू हो इसके लिए शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की उपस्थिति में एयरपोर्ट के लिए अधिग्रहित की गई 1334 हेक्टेयर जमीन का लीज अग्रीमेंटसाइन किया गया।

यह लीज अग्रीमेंटराज्य सरकार की ओर से विशेष सचिव, नागरिक उड्डयन विशाक जी और नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट की ओर से यीडा के सीईओ डॉ. अरुणवीर और नोडलऑफिसर शैलेन्द्र भाटिया ने साइन किया। अब इस जमीन को नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट, जेवर को ट्रांसफर किया जाएगा। इसके बाद एयरपोर्ट का निर्माण कार्य शुरू होगा।

शेयर होल्डर्स के साथ अग्रीमेंट साइन
इसी कार्यक्रम में ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनैशनल, यमुना इंटरनैशनल प्राइवेट लिमिटेड और नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के बीच नोएडा इंटरनैशलन एयरपोर्ट, जेवर के लिए शेयर होल्डर्स अग्रीमेंटपर साइन किया गया।

‘मील का पत्थर साबित होगा जेवर एयरपोर्ट’
कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि यह लीज एग्रीमेंट इस एयरपोर्ट के तेज निर्माण और उत्तर प्रदेश के विकास के लिए मील का पत्थर साबित होगा। एयरपोर्ट बनने के बाद उत्तर प्रदेश की एयर कनेक्टिविटी और बेहतर हो जाएगी।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का सपना है कि आम आदमी को भी हवाई सेवाएं उपलब्ध हो सकें। जेवर एयरपोर्ट का विकास उनके इस सपने को साकार करेगा। साथ ही, यह एयरपोर्ट देश तथा प्रदेश की अर्थव्यवस्था को तेजी से आगे बढ़ाने में भी मददगार साबित होगा।

शिलान्यास का रास्ता साफ

नियाल की तरफ से इस अग्रीमेंट पर यमुना अथॉरिटी के मुख्य कार्यपालक अधिकारी डॉक्टर अरुणवीर सिंह ने हस्ताक्षर किए। शेयर होल्डिंग अग्रीमेंटके बाद नोएडा एयरपोर्ट के पहले चरण के लिए नागरिक उड्डयन विभाग के नाम अधिग्रहीत 1334 हेक्टेयर जमीन को नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट लिमिटेड के नाम दर्ज किया गया।

जमीन दर्ज करने की यह प्रक्रिया 96 करोड़ रुपये के ई-स्टांप पर हुई। इसके बाद नियाल ने ज्यूरिख एयरपोर्ट की सब्सिडरी कंपनी यमुना इंटरनैशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड (वाईआईएपीएस) को जमीन लीज डीड पर देने के हस्ताक्षर किए। इसके साथ शिलान्यास का मार्ग प्रशस्त हो गया।

अगस्त में पीएम मोदी रख सकतें हैं नींव

उम्मीद है कि अगस्त में नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट की नींव रखने का काम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी करेंगे। एयरपोर्ट को विकसित करने के लिए स्विटजरलैंड के ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनैशनल एजी की तरफ से भारत में बनाई गई कंपनी यमुना इंटरनैशनल एयरपोर्ट प्राइवेट लिमिटेड के मुख्य कार्यपालक अधिकारी क्रिस्टोफ श्नेलमैन ने शेयर होल्डिंग अग्रीमेंटहोने पर प्रसन्नता जाहिर की है।

कुछ साल में यूपी में होंगे 5 इंटरनैशनल एयरपोर्ट
मौजूदा समय में यूपी में दो इंटरनैशनल एयरपोर्ट लखनऊ और वाराणसी हैं। इसके अलावा कुशीनगर एयरपोर्ट का काम पूरा किया जा चुका है। अगले कुछ साल में अयोध्या और नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट का काम भी पूरा हो जाएगा। इसके बाद प्रदेश में इंटरनेशनल एयरपोर्ट की संख्या पांच हो जाएगी।

 

नोएडा इंटरनेशनल एयरपोर्ट की खास बातें

– नोएडा इंटरनैशनल एयरपोर्ट के लिए सभी जरूरी एनओसी सरकार को मिल चुकी है।
– एयरपोर्ट का पहला चरण तीन साल में पूरा होगा। शुरू में हर साल 1.20 करोड़ यात्री सफर करेंगे।
– 2040-50 तक इस एयरपोर्ट पर यात्रियों की संख्या 7 करोड़ होने का अनुमान है।
– जेवर एयरपोर्ट कार्गो एयरपोर्ट भी है, वर्ष 2040-50 तक 2.6 मिलियन टन कार्गो की क्षमता का विकास होगा।
– नोएडा इंटरनैशनल ग्रीनफील्ड एयरपोर्ट के रनवे की संख्या 2 से बढ़ाकर 6 किए किया गया है।
– जेवर एयरपोर्ट को हाई स्पीड रेल से जोड़ा जाएगा। साथ ही इंदिरा गांधी एयरपोर्ट से सड़क मार्ग द्वारा जोड़े जाने तथा मेट्रो रेल से जोड़े जानेपर भी काम चल रहा है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.