The ATI News
News Portal

जानिए आखिर क्यों एक ही परीक्षार्थी के लिए 19 कर्मियों की लगाई गई ड्यूटी

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

परीक्षा देकर जब छात्रा बाहर निकली तो उसने बताया कि उसे लगा था कि इस विषय के और भी परीक्षार्थी होंगे। लेकिन परिक्षा केन्द्र पहुंची तो देखा कि वह अकेली ही इस विषय की परीक्षार्थी है।बिहार के गया जिले में चौका देने वाला मामला सामने आया हैं, जहां शुक्रवार को इंटर की परीक्षा देने आयी एक छात्रा के लिए परीक्षा केंद्र पर 19 कर्मियों की ड्यूटी लगाई गई।दरअसल, अनुमंडल के प्रोजेक्ट कन्या इंटर स्कूल स्थित सेंटर में इंटरमीडिट के परीक्षा की पहली पाली में सिर्फ एक छात्रा साधना कुमारी परीक्षा देती नजर आयी। सेंटर के बाकी सभी कमरे खाली थे। साधना अकेले बैठकर एग्जाम दे रही थी, उसके पीछे सिर्फ खाली कुर्सियां ही दिख रही थीं।

आइए जानते हैं,क्या है पूरा मामला?

गया के इमामगंज की रहने वाली साधना कुमारी संजय गांधी कॉलेज की आईएससी की छात्रा है। उसके इंटर की परीक्षा का सेंटर प्रोजेक्ट कन्या इंटर स्कूल शेरघाटी में दिया गया था।कल उसके पसन्द के विषय कंप्यूटर साइंस एंड वेब टेक्नोलॉजी की परीक्षा थी,लेकिन जब वह परीक्षा केंद्र परीक्षा देने पहुंची तो देखा कि इस विषय की वह अकेली परीक्षार्थी है। ऐसे में उसने अकेले बैठ कर परीक्षा दी और निर्धारित समय से पहले ही परीक्षा देकर निकल गयी।

परीक्षा देकर जब वह बाहर निकली तो उसने बताया कि उसे लगा था कि इस विषय के और भी परीक्षार्थी होंगे, लेकिन परिक्षा केन्द्र पहुंची तो देखा कि वह अकेली ही इस विषय की परीक्षार्थी है।

1 परीक्षार्थी के लिए लगाए गए थे 19 कर्मी

इस संबंध में प्रोजेक्ट कन्या इंटर स्कूल शेरघाटी के केंद्राधीक्षक राजकुमार सिंह ने बताया कि शुक्रवार की पहली पाली में सिर्फ एक छात्रा साधना कुमारी ने परीक्षा दी है। जबकि पहली पाली की परीक्षा के लिए केंद्र पर कुल 19 कर्मियों को नियुक्त किया गया था, कर्मियों में 1 केंद्राधीक्षक, 6 शिक्षक, 4 मजिस्ट्रेट,1 वीक्षक,6 पुलिसकर्मी और 1 अनुसवेक शामिल थे।

भाभी ने देवर के साथ मिलकर रची पति के मौत की साज़िश, दम घुटने से हुई मौत

जबरन शादी को‌ मजबूर किए जाने पर माँ-बेटी ने ट्रेन के सामने कूदकर दे दी जान, शव के उड़े चीथड़े

क्या ठाकुर तिलकधारी सिंह के नाम पर होना चाहिए इस मार्ग का नाम 

Leave A Reply

Your email address will not be published.