The ATI News
News Portal

किसान, कारोबारी और रेहड़ी-पटरी वालों के लिए मोदी सरकार ने खोला खजाना…

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

किसान, कारोबारी और रेहड़ी-पटरी वालों के लिए मोदी सरकार ने खोला खजाना…

 

Radha Singh | 01-06-2020

 

मोदी सरकार
Photo Google

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में कैबिनेट की बैठक हुई। इसमे में कई अहम और ऐतिहासिक फैसले लिये गये। मोदी कैबिनेट की यह बैठक इसलिये भी खास मानी जा रही थी क्योंकि मोदी सरकार 2.0 का पहला साल पूरा हो चुका है। कैबिनेट बैठक के बाद केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, नितिन गडकरी और नरेंद्र सिंह तोमर ने कैबिनेट में लिये गये फैसलों की जानकारी मीडिया को दी। सरकार की ओर से किसान, कारोबारी और रेहड़ी-पटरी वालों के लिए बड़े ऐलान किए गए।

 

मोदी की महात्वाकांक्षी योजना ‘वन नेशन वन राशन कार्ड’ देश में लागू

 

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने बताया कि एमएसएमई के लिए 50,000 करोड़ रुपए के इक्विटी निवेश को मंजूरी दी गई है, इसमें ये कंपनियां बाजार में लिस्ट होकर पैसा जुटा सकती हैं। उन्होंने कहा कि देश भर में 6 करोड़ से ज्यादा एमएसएमई हैं। जावडेकर ने बताया कि कोरोना वायरस महामारी के बाद पीएम मोदी ने इस सेक्टर की अहमियत समझते हुए एमएसएमई के लिए आवंटन का फैसला किया गया है।

 

आखिर क्यो एकता कपूर पर हिंदुस्तानी भाऊ ने दर्ज कराई FIR

 

केंद्रीय मंत्री ने बताया कि रेहड़ी लगाने वालों के लिए भी क्रेडिट स्कीम को मंजूरी दी गई है। शहरी आवास मंत्रालय ने विशेष सूक्ष्म ऋण योजना शुरू की है। इसके जरिए छोटे दुकाने चलाने वाले या रेहड़ी पटरी पर दुकान लगाने वाले लोन ले सकते हैं। जावड़ेकर ने बताया कि यह योजना लंबे समय तक चलेगी, इसका फायदा 50 लाख से ज्यादा दुकानदारों को मिलेगा। इसके तहत फुटपाथ विक्रेताओं समेत रेहड़ी पटरी वालों को 10 हजार रुपये तक कर्ज दिया जाएगा।

 

चीन अमेरिका में भयंकर युद्ध ,सुपरफास्ट -5

 

बैठक में केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि न्यूनतम समर्थन मूल्य में बड़ी बढ़ोतरी की गई है, मक्का के समर्थन मूल्य में 53 फीसदी की बढ़ोतरी की गई है, तूअर और मूंग में 58 फीसदी का इजाफा किया गया है की बढ़ोतरी की गई है। तोमर ने कहा कि 14 फसल ऐसी हैं जिसमें किसानों को 50 से 83 फीसदी तक ज्यादा समर्थन मूल्य दिया जाएगा।

 

इस समाज की ये हालत जानकर रो देंगे आप

 

नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा कि अभी तक सरकार ने 360 लाख मिट्रिक टन गेहूं का प्रोक्योरमेंट किया है। इसी के साथ 95 लाख मिट्रिक टन धान और 16.07 लाख मिट्रिक टन दाल का प्रोक्योरमेंट किया गया है। इसी बैठक में केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि धान का न्यूनतम समर्थन मूल्य 1868 रुपये किया गया है। गडकरी ने कहा कि एमएसएमई अभी कठिन दौर से गुजर रहा है, देश में 6 करोड़ एमएसएमई हैं जिनमें 11 करोड़ से ज्यादा लोगों को नौकरी मिली है।

 

भारत चीन से शुरू हुआ युद्ध ,? क्या होगा आगे

 

नितिन गडकरी ने कहा कि एमएसएमई की मजबूती से निर्यात बढ़ेगा, 25 लाख एमएसएमई के पुनर्गठन की उम्मीद है। मजबूत एमएसएई के 15 फीसदी इक्विटी खरीदने की योजना है। कमजोर उद्योगों को उबारने के लिए 4 हजार करोड़ का फंड दिया गया है।   गडकरी  ने  कहा  कि एमएसएमई  से 6 करोड़ छोटे कारोबारी जुड़े हैं, जिन्हें इस योजना से बड़ा लाभ मिलेगा, 2 लाख एमएसएमई नए फंड से फिर शुरू हो जाएंगे।

 

 

मशहूर संगीतकार साजिद-वाजिद भाइयों की जोड़ी में,वाजिद का COVID-19 से निधन

 

 

लॉकडाउन 5.0 के मद्देनजर योगी सरकार ने जारी किया गाइडलाइन

 

 

जानकर आश्चर्य होगा मुंबई में नेता कर रहे ऐसा काम ,प्रशासन से कोई मतलब नहीं ।

Leave A Reply

Your email address will not be published.