The ATI News
News Portal

पैदल अपने घर को लौटने को मजबूर राहगीर

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

कोरोना वायरस के बढ़ते प्रभाव को देकते हुए कई जगह लॉकडाउन लगा दिये गये है। डाउन का सीधा असर रोड पर दिखाई दे रहा है । देश प्रदेश के बाहर से आने वाले आम नागरिक बस स्टेशन व रेलवे स्टेशन पर सवारियों के लिए इधर-उधर गिड़गिड़ाते हुए देखे जा रहे हैं सवारी न मिलने की वजह से दिल्ली मुंबई से आने वाली पब्लिक पैदल अपने घर जाने के लिए मजबूर है। प्रदेश सरकार के निर्देश पर प्रतिदिन शाम 8 बजे से सुबह 7 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगा रहता है लेकिन शनिवार को शाम 8 बजे से सोमवार सुबह 7 बजे तक इमरजेंसी सेवाओं को छोड़कर सभी प्रकार के आवागमन व आवाजाही पर पूर्णता रोक लगाते हुए बंद कर दिया गया है।

Acupressure Trick से बढ़ेगा Immunity Power : प्रो० अमर प्रताप सिंह

जिसकी वजह से दुसरे शहर से आने वाला आम आदमी की पीड़ा को कोई देखने वाला नहीं है ना ही उनके गंतव्य तक पहुंचने के लिए किसी प्रकार का रेलवे व बस स्टेशन पर साधन उपलब्ध है। अगर इक्का-दुक्का किसी प्रकार की बसें दिखाई दे रही है तो उसमें कोरोना प्रोटोकाल का धज्जियां उड़ाते हुए लोग बैठने को मजबूर है। ज्यादातर दूरदराज से आने वाले आम जनमानस पैदल ही अपने घरों को जाने के लिए मजबूर है। कारण यह है कि जो सवारियां इक्का-दुक्का मिल रही हैं वह दोगुना से चारगुना किराया वसूल रही है। जिम्मेदार रोडवेज के अधिकारी मौन पड़े हुए है कि दूर-दराज से आने वाली हमारी सम्मानित सवारियों अपने गंतव्य को कैसे जाएगी जो सवारियां पैदल अपने गंतव्य को जा रही हैं जिम्मेदारों को कोसते हुए अपने घर को जाने को मजबूर हैं।

Leave A Reply

Your email address will not be published.