The ATI News
News Portal

मुरादाबाद में पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला, एक डॉक्टर समेत कई पुलिस कर्मी घायल

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

मुरादाबाद में पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला, एक डॉक्टर समेत कई पुलिस कर्मी घायल

शुभम द्विवेदी

मुरादाबाद में पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला, एक डॉक्टर समेत कई पुलिस कर्मी घायल
Image Source Dainik Jagran

मुरादाबाद। बुधवार को उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद के हॉटस्पॉट इलाके नवाबपुरा में कोरोना संदिग्धों कि जांच के लिए डॉक्टरों और पुलिस की टीम पर स्थानीय लोगों ने हमला कर दिया। डॉक्टरों एवं पुलिस की टीम पर पथराव किया गया और टीम की तीन गाडिय़ों को बुरी तरह क्षतिग्रस्त कर दिया, जिसमे एक डॉक्टर समेत 5 लोग बुरी तरह घायल हो गए। पुलिस ने तुरन्त एक्शन लेते हुए 221 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया और 7 महिलाओं समेत 17 लोगों को गिरफ्तार कर लिया। 

पूरा मामला

मामला नागफणी थाना क्षेत्र के नवाबपुर का है जहां 13 अप्रैल को 49 साल के सरताज अली की कोरेना से मौत हो गयी थी। बताया जा रहा है कि सरताज अली को जब सांस लेने में दिक्कत हुई तो वह खुद जाकर एक निजी मेडिकल कालेज टीएमयू में भर्ती हुआ था। जहां डॉक्टरो ने उसके लक्षण को देखते हुए उसका सैम्पल लेकर टेस्ट के लिए भेजा था। 13 अप्रैल को उसकी कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई और 13 को ही उसकी मौत हो गयी थी। पुलिस को स्थानीय सूत्रों से जनकारी मिली की दिल्ली के मरकज़ से एक जमात सरताज अली के घर के पास वाली मस्जिद में आकर रुकी थी और उसी जमात के लोगों के संपर्क में आने से सरताज अली को कोरोना हुआ।

ये भी पढ़े …..जानिए  Instagram  पर सबसे ज्यादा फॉलो किये जाने वाले Bollywood Stars

 

जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम बुधवार को उसके परिवार के अन्य सदस्यों को क्वारेंटाइन करने के लिए पहुंची थी।जब टीम परिवार के लोगों को लेकर जा रही थी, तभी आस-पास के लोग इकट्ठा हो गए और कहने लगे कि क्वारेंटाइन सेंटर में खाना नहीं दिया जा रहा है।हम अपने लोगों को क्वारेंटाइन सेंटर नहीं भेजेंगे।इसके बाद मौके पर मौजूद पुलिस ने उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन भीड़ ने पथराव शुरू कर दिया। इस पथराव में एम्बुलेंस और पुलिस की दो गाड़ियां क्षतिग्रस्त हो गई। इसमें एक डॉक्टर सहित 4 पुलिसकर्मी भी घायल हो गए

 

मुरादाबाद में पुलिस और स्वास्थ्य कर्मियों पर हमला, एक डॉक्टर समेत कई पुलिस कर्मी घायल..
Image Source Google

घटना की सूचना मिलते ही पास के कई थानों की पुलिस के साथ एसपी सिटी अमित कुमार आनंद पहुंच कर भीड़ को काबू में करने की कोशिश करने लगे। मारपीट और पथराव करने के बाद उपद्रवी आसपास के घरों में छिप गए और कुछ मौके से फरार हो गए। पुलिस ने सख्ती से कार्यवाही कर घरों के दरवाजे खुलवाकर उपद्रवियों को निकाल कर उन्हें गिरफ्तार गया।

 

ये भी पढ़े ….सैनिटाइज़र के जन्म की अनोखी घटना

 

मुरादाबाद के एसएसपी अमित पाठक ने बताया कि नवाबपुरा में कोरोना संदिग्धों को क्वारंटाइन सेंटर ले जाते हुए पुलिस और स्वास्थ्य विभाग की टीम पर स्थानीय लोगों द्वारा हमला किया गया। जिसमे कार्यवाही करते हुए 7 महिलाओं समेत 17 लोगों को गिरफ्तार किया गया और 221 के खिलाफ IPC के तहत सेक्शन 147, 148, 149, 188, 269, 270, 332, 353, 307, 504, 427, 506, 34, 323, 324 के तहत केस दर्ज किया गया है। क्रिमिनल लॉ अमेंडमेंट एक्ट की धारा 7, लोक संपत्ति क्षति अधिनियम की धारा 3, आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 51, महामारी अधिनियम की धारा 3 के तहत भी केस दर्ज हुये हैं।

हमलावरों पर एनएसए के तहत होगी कार्यवाही : सीएम योगी

इस घटना को तुरन्त संज्ञान में लेते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने तत्काल कार्यवाही के आदेश दिए है। उन्होंने कहा कि “मेडिकल टीम पर हमला करना अक्षम्य अपराध है। ऐसे दोषियों के खिलाफ आपदा नियंत्रण अधिनियम और एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी साथ ही राजकीय संपत्ति के नुकसान की भरपाई भी उन्हीं की संपत्ति से कराई जाएगी। आपदा की घड़ी में दिन रात जुटे पुलिस, स्वास्थ्य व सफाई कर्मियों पर हमले की घटना अक्षम्य अपराध है। जनता की सुरक्षा के साथ ऐसे उपद्रवी तत्वों से पूरी सख्ती से निपटा जाए”।

एडीजी कानून-व्यवस्था पीवी रामाशास्त्री का कहना है कि “हमलावरों की गिरफ्तारी के कड़े निर्देश दिए गए हैं। हमले के पीछे कहीं कोई शरारती तत्व तो नहीं थे अथवा किसी के उकसाने पर तो ऐसी घटना नहीं हुई इसकी भी पड़ताल करने के निर्देश दिए गए है”।

 

ये भी पढ़े ये ….छोटे शहर के लड़के POETRY IN HINDI

ये भी पढ़े …LIVE Coronavirus News: तमिलनाडु में आज 25 नए मामलों की पुष्टि, मरीजों की संख्या 1200 से ज्यादा हुई

Leave A Reply

Your email address will not be published.