आजमगढ़ में अवैध जनसेवा केंद्र पर पुलिस ने मारा छापा, फर्जी आईडी से हो रही थी टिकट बुकिंग

 

शुभेन्द्रधर द्विवेदी | 29/09/2020

आजमगढ़ के निज़ामाबाद स्थित अवैध जनसेवार केन्द्र पर सोमवार को आरपीएफ व सीआईबी की संयुक्त टीम ने छापेमारी की। छापेमारी में टीम ने अवैध सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर फर्जी आईडी पर तत्काल ई-टिकट बुक करने वाले दो एजेंटों को गिरफ्तार कर लिया। दोनों आरोपितों के पास से कुल 13 तत्काल ई-टिकट मिले, जिसकी कीमत करीब 6888 रुपये है।

 

मास्क न लगाने की वजह से आजमगढ़ पुलिस अधीक्षक का हुआ चालान , भरना पड़ा ₹ 500 का जुर्माना

आरपीएफ थाना प्रभारी रमेश कुमार मीणा, औड़िहार आरपीएफ थाना प्रभारी नरेश कुमार मीणा व सीआईबी अरविंद कुमार यादव की संयुक्त टीम ने निज़ामाबाद थाना क्षेत्र के में सुपर जनसेवा केंद्र नाम से चल रहे अवैध जनसेवा केंद्र पर छापेमारी की। छापेमारी के दौरान बरामद टिकटों पर अभी यात्रा करना बाकी है।

आरपीएफ थाना प्रभारी रमेश कुमार मीणा ने बताया कि निज़ामाबाद के हुसैनाबाद गांव निवासी अनिल मौर्य व अरविंद कुमार मौर्य मिल कर इस जनसेवा केन्द्र को चलते थे जिन्हें मौके से गिरफ्तार किया गया है। दोनों आरोपी आईआरसीटीसी की साइट पर पर्सनल यूजर आईडी बनाकर अवैध तत्काल प्लस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर रेल टिकट निकालते हैं।

जानिए कहा है दुनिया का सबसे ऊंचा मंदिर “बृहदेश्वर मन्दिर

 

पुलिस के अनुसार वह पिछले कई माह से अवैध ई-टिकट का काला कारोबार करते हैं। जिसकी ख़बर मिलने पर यह कार्यवाही की गई है। पुलिस के साथ टीम में रेलवे सुरक्षा बल आजमगढ़ पोस्ट के सहायक उपनिरीक्षक भी शामिल थे।

 

उत्तर प्रदेश में दशहरा के दौरान नहीं लगेगा मेला, दुर्गा पूजा पर भी सरकार ने लगाई रोक

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने डीएलएड प्रशिक्षुओं की मांगों को लेकर लखनऊ में किया धरना प्रदर्शन

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *