The ATI News
News Portal

एक सप्ताह से एक कमरे में बंद एक महिला को पुलिस ने निकाला बाहर, अस्पताल में कराया भर्ती

0

Get real time updates directly on you device, subscribe now.

छोटे से कमरे में रह रही महिला के पास खाने को एक दाना भी नसीब नहीं था, महिला में इतनी शक्ति नहीं बची थी कि खोल पाए दरवाजा जिससे उसका शरीर कंकाल बन चुका था ।

थाना क्षेत्र नरायनदास का पुरा गांव में एक बुजुर्ग महिला भूखे-प्यासे पिछले एक सप्ताह से कमरे के भीतर बंद पड़ी रही। ग्रामीणों ने बताया कि महिला के अंदर अब इतनी शक्ति भी नहीं बची थी कि वह उठकर भीतर से कमरे की सिटकनी खोल सके। परेशान ग्रामीणों ने शुक्रवार की शाम फूलपुर तहसील, एसडीएम फूलपुर और झूंसी पुलिस से गुहार लगाई थी, और इलाकाई पुलिस की मदद से कमरे का दरवाजा तोड़कर असशक्त पड़ चुकी महिला को बाहर निकाला। तकरीबन कंकाल बन चुकी महिला को गंभीर हालत में शहर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सोना चांदी के दाम में आई गिरावट ,शादी ब्याह वालों के लिए खुशखबरी ।

थाना क्षेत्र के नरायनदास का पुरा गांव में करीब छह माह पहले एक खाली प्लाट की रखवाली के लिए यमुनापार का कोई व्यक्ति एक महिला को ले आया था। प्लाट के भीतर बने एक कमरे में महिला रहती थी। पिछले कई माह से उक्त व्यक्ति का कोई अता-पता नहीं था। इसी बीच महिला भी कई दिनों से ग्रामीणों को नजर नहीं आ रही थी। किसी तरह दो दिन पहले ग्रामीण प्लॉट की चहारदीवारी फांदकर महिला के कमरे के पास पहुंचे। बाहर से आवाज लगाई तो महिला ने जवाब दिया लेकिन दरवाजे की सिटकनी नहीं खोल सकी।

जानिए कपिल शर्मा शो से फेम कमाने वाली एक्ट्रेस किस बीमारी से जूझ रही है

ग्रामीणों ने शुक्रवार को एक बार फिर महिला को बाहर निकालने की कोशिश शुरु की। कमरे के बाहर पहुंचकर आवाज लगाई तो भीतर से बेहद ही धीमी आवाज में जवाब आया। पता चला है कि महिला पिछले कई दिनों से भूखे-प्यासे कमरे के भीतर बंद है।

ब्लैक फंगस को लेकर योगी सरकार ने जारी किया किया गाइडलाइन 

उसके शरीर में इतनी भी शक्ति नहीं बची थी कि वह उठकर लोहे का दरवाजा खोल सके। मामले की जानकारी ग्रामीण गुड्डू मौर्य ने ग्राम प्रधान के साथ इलाकाई पुलिस को दी तो शाम को इलाकाई पुलिस के साथ-साथ कानूनगो और लेखपाल मौके पर पहुंचे। फिर पुलिस ने ग्रामीणों की मदद से कमरे का दरवाजा तोड़ा और महिला को बाहर निकाला। महिला को गंभीर हालत में शहर के सरकारी अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

Leave A Reply

Your email address will not be published.