Spread the love

परंपरागत विज्ञान को बढ़ावा देना जरूरी: प्रो.राजाराम यादव

 

ATI DESK | 01-07-2020

परंपरागत विज्ञान को बढ़ावा देना जरूरी: प्रो.राजाराम यादव

 

पीयू में बायोलॉजिकल साइंसेज पर व्याख्यानमाला श्रृंखला का समापन

जौनपुर। वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर डॉ राजाराम यादव ने कहा कि हमारा उद्देश्य भारतीय परंपरागत विज्ञान को बढ़ावा देने का है। इसी के तहत इस व्याख्यानमाला का आयोजन किया गया है हमें आशा है कि इस व्याख्यानमाला से विद्यार्थी और शोधार्थी दोनों लाभान्वित हुए होंगे। कुलपति प्रोफ़ेसर यादव मंगलवार को व्याख्यानमाला के समापन अवसर पर आयोजित विभिन्न आज में बोल रहे थे।

 

 

 

 इसका आयोजन अशोक सिंहल परम्परागत विज्ञान एवं तकनीकी संस्थान और बायोटेक्नोलॉजी विभाग, वीर बहादुर सिंह पूर्वांचल विश्वविद्यालय के द्वारा किया गया। इसमें 15 -30 जून के दौरान जैविक विज्ञान विषय पर देश के प्रतिष्ठित वैज्ञानिकों ने अपने अपने विचार प्रस्तुत किए।कार्यक्रम के आयोजन सचिव एवं अशोक सिंहल परम्परागत विज्ञान एवं तकनीकी संस्थान के समन्यवयक डॉ मनीष कुमार गुप्ता ने कहा कि इस दौरान कुल 14 व्याख्यान विभिन्न विषयों पर हुए। आयुर्वेदिक विज्ञान , औषधि विज्ञान , रसायन विज्ञान का दवाओं में विकास शीर्षक पर प्रो. कृष्णा मिश्रा, वरिष्ठ वैज्ञानिक नासी एवं ट्रिपल आई टी इलाहाबाद, डॉ संतोष गुप्ता वरिष्ठ वैज्ञानिक, ड्यूक विश्वविद्यालय अमेरिका, डॉ देव बख्श सिंह, सीएसजेएम विश्वविद्यालय कानपुर, प्रो. रवि कुमार गट्टी , हैदराबाद केंद्रीय विश्वविद्यालय, डॉ सौज्यना श्री , केन्द्रीय विश्वविद्यालय केरला, प्रो. नवीन कुमार अरोरा, केन्द्रीय विश्वविद्यालय बीबीएयू लखनऊ, डॉ. वेंकटेश्वर मडका, ओखलामा विश्वविद्यालय अमेरिका, डॉ. प्रमोद कटारा इलाहाहाबाद विश्वविद्यालय, प्रयागराज,प्रो. पी.पी. माथुर पांडिचेरी विश्वविद्यालय,डॉ. आनंद गौरव, यूसीएसआई विश्वविद्यालय क्वालालंपुर मलेशिया, डॉ ऋतुराज पुरोहित, प्रिंसिपल साइंटिस्ट, सीएसआईआर -आई एच बी टी पालमपुर, डॉ मोहन कमथान, जामिया हमदर्द विश्वविद्यालय, नई दिल्ली, डॉ. राजेश वाशिटा, केन्द्रीय विश्वविद्यालय गुजरात, प्रो. अनिल कुमार, डायरेक्टर एजुकेशन, रानी लक्ष्मीबाई केन्द्रीय कृषि विश्वविद्यालय झाँसी ने व्याख्यान दिए |

 

 

विज्ञान संकाय के संकायाध्यक्ष प्रो. राम नारायण ने कहा सभी प्रतिभागियों के लिए ऐसे उच्च गुणवत्ता के व्यख्यान उनके प्रोजेक्ट कार्य एवं अनुसंधान के लिए लाभप्रद होगा | डॉ राजकुमार विभागाध्यक्ष गणित, डॉ सुनील कुमार सह मीडिया प्रभारी, डॉ नितेश जायसवाल, डॉ अमरेन्द्र सिंह, डॉ राम नरेश ने समय समय पर अतिथियों का स्वागत किया | अंतिम दिन कार्यक्रम के समापन पर डॉ मनीष कुमार गुप्ता ने सभी विशेषज्ञों, का आभार एवं धन्यवाद ज्ञापित कर किया |

 


Spread the love

DOWNLOAD APP

THE ATI NEWS APP

THE ATI NEWS APP

THE ATI MAGAZINE S4

Litmted Time Offer

           

FOLLOW US

INSTAGRAM

YOUTUBE

Advertisement

The ATI News

Archivies

Social